chessbase india logo
Hindi News

 

 

स्पैनिश डायरी 05- खूबसूरत सिट्जस ! भारत यहाँ भी है मौजूद !

by निकलेश जैन - 08/08/2017

स्पैनिश डायरी अब अपने अंतिम विराम की ओर बढ़ रही है । 53 दिनो का हमारा कारवां इस बार जा पहुंचा स्पेन के बार्सिलोना के पास स्थित सिट्जस में जो स्पेन ही नहीं दुनिया भर में अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है  यहाँ हमने प्रतिभागिता की 43वे सिट्जस इंटरनेशनल में । पेरु के युवा खिलाड़ी कोरी  जॉर्ज नें बेहतरीन खेल से खिताब अपने नाम किया । भारतीय खिलाड़ियो में इस बार शीर्ष 10 में भी कोई शामिल नहीं था पर भारतीय खिलाड़ियों में सबसे आगे रहे 50 वर्षीय अनूप देशमुख जिनका जज्बा युवाओं को भी मात देता नजर आता है । खैर भारत के बाहर भी भारत की मौजूदगी आपको रोमांच ,सम्मान और गर्व से भर देती है पढे इस लेख में की आखिर हमें ऐसा क्या मिला जिसने हमें रोमांच और सम्मान से भर दिया । पढे स्पैनिश डायरी का यह पांचवा लेख ! 

भारत से 22 जून से शुरू हुई हमारी यात्रा का चौंथा पड़ाव था अपनी खूबसूरत समुद्री तट के लिए जाना जाने वाला सिटजस . यहाँ हमने प्रतिभागिता की सिटजस द विला इंटरनेशनल के 43वे  संस्करण में ।  

सिटजस स्पेन के सबसे प्रसिद्ध दर्शनीय स्थलो में से एक है

 

और आप जहां तक भी नजर ले जाएंगे आपको नीला समंदर और नीला आकाश एक नजर आएंगे ! 

खूबसूरत मैच स्थल ! वाकई आपको प्रेरणा देता है एक अच्छा मैच खेलने की  

और मैच शुरू होते ही जैसे एक अलग ही माहौल होता था ! वाकई शानदार  

वाकई इन 64 खानो के शतरंज में सारी दुनिया समाई हुई है  

 सिट्जस में कोई भी भारतीय खिलाड़ी शीर्ष 3 में जगह नहीं बना पाया । पेरु के कोरी जॉर्ज नें शानदार प्रदर्शन करते हुए खिताब अपने नाम किया । पूरे टूर्नामेंट में वह आसधारण रहे और 8.5/9 अंक बनाकर विजेता बन कर सामने आए ।दूसरे स्थान पर 7.5 अंको के साथ रूस के ग्रांड मास्टर सेरजी वोलकोव रहे । तीसरे स्थान पर क्यूबा के ओलिवा केवल रहे और साथ ही उन्होने अपना ग्रांड मास्टर नोर्म भी हासिल किया । 

विजेता बने कोरी जॉर्ज ! क्या सोचते है देखे ये विडियो 

[Event "43 Open Internacional d'Escacs Vila de S"]
[Site "Sitges (Barcelona)"]
[Date "2017.07.26"]
[Round "5.1"]
[White "Volkov, Sergey"]
[Black "Cori, Jorge"]
[Result "0-1"]
[ECO "D10"]
[WhiteElo "2627"]
[BlackElo "2636"]
[PlyCount "70"]
[EventDate "2017.07.22"]
[EventRounds "9"]
[EventCountry "ESP"]
[WhiteClock "0:00:54"]
[BlackClock "0:04:05"]

1. d4 d5 2. c4 c6 3. cxd5 cxd5 4. Bf4 Nc6 5. e3 Nf6 6. Nc3 a6 7. Bd3 e6 8. Rc1
Bd6 9. Bxd6 Qxd6 10. f4 O-O 11. Nf3 Bd7 12. Ne5 Rfc8 13. O-O Be8 14. g4 Nd7 15.
g5 Ne7 16. Qf3 b5 17. a3 Rc7 18. Ne4 dxe4 19. Qxe4 Rxc1 20. Rxc1 Qd5 21. Qxh7+
Kf8 22. Be4 Qb3 23. Qh8+ Ng8 24. Rc3 Qd1+ 25. Kf2 Qd2+ 26. Kg3 Qe1+ 27. Kg2 b4
28. axb4 Nxe5 29. fxe5 Rb8 30. Bh7 Ke7 31. Qxg7 Rxb4 32. Rc2 Qxe3 33. Qxg8 Rxd4
34. Rf2 Rg4+ 35. Kf1 Bb5+ 0-1

 केटलन चेस सर्किट में  चौंथे बड़े टूर्नामेंट सिटजस इंटरनेशनल में सभी युवाओं और ग्रांड मास्टरों को पीछे छोड़ते हुए 50वर्षीय इंटरनेशनल मास्टर अनूप देशमुख सर्वश्रेष्ठ भारतीय खिलाड़ी रहे । अपने समय में देश के सर्वश्रेष्ठ सब जूनियर खिलाड़ी रहे अनूप को उस  उस दौर में विश्वनाथन आनंद जैसा प्रतिभावान  खिलाड़ी माना जाता था  और उस दौर में उन्होने आनंद को भी दो बार राष्ट्रीय स्पर्धा में पराजित किया था । आज इस उम्र में उन्होने लगातार 43 दिन मैच खेलकर युवाओं को जबरजस्त प्रेरणा दी है । 

[Event "43 Open Internacional d'Escacs Vila de S"]
[Site "Sitges (Barcelona)"]
[Date "2017.07.23"]
[Round "2.3"]
[White "Grigoryan, Karen H"]
[Black "Deshmukh, Anup"]
[Result "1/2-1/2"]
[ECO "B27"]
[WhiteElo "2555"]
[BlackElo "2241"]
[PlyCount "61"]
[EventDate "2017.07.22"]
[EventRounds "9"]
[EventCountry "ESP"]
[WhiteClock "0:38:52"]
[BlackClock "0:40:04"]

1. e4 c5 2. Nf3 g6 3. d4 Bg7 4. d5 d6 5. Nc3 a6 6. a4 Nd7 7. Bc4 Ne5 8. Nxe5
Bxe5 9. f4 Bd4 10. Ne2 Bg7 11. O-O Nh6 12. h3 Bd7 13. Qd3 Qc7 14. c3 O-O 15. g4
b5 16. axb5 axb5 17. Rxa8 Rxa8 18. Bxb5 Bxb5 19. Qxb5 Kf8 20. f5 Ng8 21. Qd3
Qb6 22. Qf3 g5 23. h4 h6 24. hxg5 hxg5 25. Kg2 Qb3 26. Ng3 Ra1 27. Qe2 Rb1 28.
Qd3 Ra1 29. Kh3 Be5 30. Bxg5 Qxb2 31. Rxa1 1/2-1/2

उन्होने नें कुल 6 अंक बनाते हुए  सयुंक्त 12 वां स्थान हासिल किया और उन्हे 2250 रेटिंग ग्रुप का भी सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया ।  केटलन चेस सर्किट में हुए अब तक चार टूर्नामेंट में वह तीन बार यह पुरुष्कार हासिल कर चुके है । उन्होने प्रतियोगिता में  5 जीत और 2 ड्रॉ खेलकर यह अंक बनाए ।  

भारत की युवा वुमेन इंटरनेशनल मास्टर वन्तिका अग्रवाल नें सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी और जूनियर दोनों वर्गो के पुरुष्कार जीते । 

[Event "43 Open Internacional d'Escacs Vila de S"]
[Site "Sitges (Barcelona)"]
[Date "2017.07.28"]
[Round "7.18"]
[White "Gonzales, Jayson"]
[Black "Vantika, Agrawal"]
[Result "0-1"]
[ECO "A48"]
[WhiteElo "2399"]
[BlackElo "2230"]
[PlyCount "50"]
[EventDate "2017.07.22"]
[EventRounds "9"]
[EventCountry "ESP"]

1. d4 Nf6 2. Bf4 g6 3. e3 Bg7 4. Nf3 O-O 5. Be2 d6 6. h3 c5 7. O-O cxd4 8. exd4
Nc6 9. Nc3 Bf5 10. Bd3 Bxd3 11. Qxd3 Rc8 12. Rad1 d5 13. Qb5 Na5 14. Qe2 Nc4
15. Bc1 e6 16. b3 Nd6 17. Bb2 Qa5 18. Qe1 b6 19. a4 Rfd8 20. Ne5 Rc7 21. f3
Rdc8 22. Rd3 Nd7 23. b4 Qxb4 24. Ba3 Qxa3 25. Nb5 Nxb5 0-1

वर्ग ब में जरूर भारत का नाम टॉप थ्री में रहा भारत के सम्राट घोरई नें पहला तो अतुल कुमार नें तीसरा स्थान प्राप्त किया । 

अंजलि सागर वैसे तो एक अभिभावक होने के नाते यहाँ आई है पर उन्होने पिछले सभी टूर्नामेंट में वर्ग ब की सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी होने का खिताब अपने नाम किया है । 

हिमांशु के लिए यह टूर्नामेंट खास नहीं रहा पर उम्मीद है वह आगे जोरदार वापसी करेंगे । यहाँ हिमांशु 6/9 अंक के साथ 19वे स्थान पर रहे । 

[Event "43 Open Internacional d'Escacs Vila de S"]
[Site "Sitges (Barcelona)"]
[Date "2017.07.27"]
[Round "6.8"]
[White "Himanshu, Sharma"]
[Black "Martinez, Ayelen"]
[Result "1-0"]
[ECO "A05"]
[WhiteElo "2498"]
[BlackElo "2279"]
[PlyCount "99"]
[EventDate "2017.07.22"]
[EventRounds "9"]
[EventCountry "ESP"]
[WhiteClock "0:36:36"]
[BlackClock "0:18:33"]

1. Nf3 Nf6 2. c4 g6 3. b3 Bg7 4. Bb2 O-O 5. e3 c5 6. Be2 b6 7. O-O Bb7 8. d4
cxd4 9. Nxd4 Nc6 10. Bf3 Rc8 11. Nc3 Ba8 12. Nc2 Qc7 13. g3 Rfd8 14. e4 Qe5 15.
Re1 e6 16. Qe2 Qb8 17. Rad1 d6 18. Bg2 a6 19. Ne3 h5 20. Rd2 Rd7 21. Red1 Rcd8
22. h3 Bb7 23. f4 Qa8 24. Kh2 Ne7 25. Nf1 Bc6 26. a4 Bb7 27. Ba3 Nc8 28. Rd3
Qb8 29. Nd2 Na7 30. Nf3 Nc6 31. Ng5 Na5 32. Nb1 Qc7 33. Nd2 Nh7 34. Ndf3 Nxg5
35. Nxg5 h4 36. Bb2 hxg3+ 37. Rxg3 d5 38. Bxg7 Kxg7 39. Qg4 Re8 40. cxd5 exd5
41. e5 Rdd8 42. Qh4 Rc8 43. Qh7+ Kf8 44. Qh8+ Ke7 45. Qf6+ Kd7 46. Qxf7+ Re7
47. Rxd5+ Bxd5 48. Qxd5+ Ke8 49. Qg8+ Kd7 50. Rd3+ 1-0


 

लाइफ इन सिट्जस !!

सिट्जस में आप ना सिर्फ खेल का मजा ले सकते है पर यहाँ की खूबसूरती भी आपके लिए खुद को तरोताजा करने का एक मौका देती है । खैर आपको बता दे की दिसंबर में एक बार फिर यहाँ होने वाले सन वे सिट्जस इंटरनेशनल फेस्टिवल में दुनिया भर के दिग्गज जमा होते है । और आप भी एक यहाँ आने के इच्छुक है तो चेसबेस इंडिया को लिखे । 

आपको बता दे की आपके खेल से संबन्धित हर समाधान के लिए अब आप चेस्स्बेस इंडिया आपकी यात्रा से लेकर रुकने और खाने का इंतजाम भी देखेगा ! पढे यह लेख ! चेसबेस इंडिया पावर !

खैर हम जा पहुंचे सन वे सिट्जस  के प्रतियोगिता स्थल होटलप्लाया गोल्फ और वहाँ अंदर जाते ही हमने जो देखा वह हैरान और खुश दोनों करने वाला था 

लगभग एक शताब्दी के पूर्व भारत में बना यह सागौन की लकड़ी का यह खूबसूरत दरवाजा स्पेन के सिट्जस के होटल के अंदर बड़े ही सम्मान से प्रदर्शित किया गया था जिसे देख कर गर्व की अनुभूति होना स्वाभाविक था 

भगवान कृष्ण के चित्र के साथ यह इसमें दिये उल्लेख के अनुसार 1916 में श्री रामाटी पट्टेदालाल के द्वारा बनाया गया था और संभवतः इसे 5 अक्तूबर को अंतिम रूप दिया गया । सोचने वाली बात है की दुनिया नें हजारों सालो से भारतीय कारीगरी और प्रतिभा का सम्मान किया है और यह अनवरत जारी है !

होटल के मैनेजर भी भारत आ चुके है और उन्होने हमें बताया की संभवतः होटल के मालिको के पूर्वजो द्वारा इसे समुद्री मार्ग से भारत से लाया गया होगा । 

भारत के बाहर भारत के बारे जब आप सम्मान देखते है तो यह गर्व का मौका होता है 

खैर आयोजको के निवेदन पर हम तीन दिनो के लिए सिट्जस में ही रुके और फिर क्या था आयोजको नें हमारे लिए इंतजाम किया साइकल का और फिर हम भी निकल पड़े । 

और मुझे लगता है आप जब भी यहाँ आए समुंदर के किनारे बसे इस खूबसूरत नगर में साइकल चलाने का मजा अवश्य उठाए 

मेरे द्वारा लिए गए कुछ चित्र ! 

 आने वाली ज़िंदगी का इंतजार ....

ज़िंदगी के सबसे बेहतरीन लम्हो में से एक प्रकर्ति हमें कुछ इसी तरह पालती है 

खूबसूरत सिट्जस 

ज़िंदगी रुकने का नाम नहीं .. 

और सफर चलता ही रहता है .... 

नीली -नीली सी खामोशियाँ !!

उम्मीद है आपको स्पैनिश डायरी पसंद आ रही होगी जल्दी मिलने अगले पड़ाव बेडलोना पर  

 

स्पैनिश डायरी के सभी लेख 

हिन्दी !

1-स्पैनिश डायरी -01- यहाँ शतरंज सिर्फ खेल नहीं !!

2-स्पैनिश डायरी -02 - फिर छा गया भारत ! श्याम रहे श्रेष्ठ !

3-स्पैनिश डायरी -03- हिमांशु के कमाल से भारत गुलजार !

4-स्पैनिश डायरी -04 - शतरंज और हौसलों का सफर ! जारी है !

अँग्रेजी !

1-Shyam Sundar wins XXV Montcada Open, Iniyan scores a GM norm!

2-GM Himanshu Sharma bags top prize at the Barbera Del Valles Open

3-Sant Marti Open 2017: An event of glorious achievements and missed opportunities

 


Sharing statistics:


Share on: