chessbase india logo

ChessBase 16 is here!

Get the all new ChessBase 16 + Mega Database 2021. Releases on 17th of November 2020. Available now on the ChessBase India Online shop.

पोल्गर शतरंज D 3 - प्रग्गानंधा की बढ़त बरकरार

11/04/2021 -

पोल्गर चैलेंज शतरंज मे भारत के आर प्रग्गानंधा नें तीसरे दिन भी अपनी एकल बढ़त को कायम रखा है पर अभी भी उन्हे खिताब जीतने के लिए अंतिम दिन बचे हुए चार राउंड मे अच्छा खेल दिखाना होगा खासतौर पर जब वह 19 वे राउंड मे दूसरे स्थान पर चल रहे उज्बेकिस्तान के नोदिरबेक अब्दुसत्तारोव से टकराएँगे तो वह ख़िताबी मुक़ाबला भी बन सकता है पर यहाँ तीसरे स्थान पर चल रहे निहाल के लिए अंतिम दिन अगर लगातार जीत लेकर आया तो खिताब वह भी जीत सकते है । खैर दुनिया के 20 जूनियर खिलाड़ियों के बीच हो रहे इस मुक़ाबले मे टीम के आधार पर जूडिथ पोल्गर की टीम 75 अंक बनाकर 71 अंक  बना सकी ब्लादिमीर क्रामनिक की टीम से आगे चल रही है । पढे यह लेख 

पोल्गर शतरंज D 2 - भारत के प्रग्गानंधा सबसे आगे

10/04/2021 -

दो पूर्व विश्व चैम्पियन रूस के महान खिलाड़ी ब्लादीमीर क्रामनिक और इतिहास की महानतम महिला खिलाड़ी जूडिथ पोलगर की टीम के बीच जोरदार संघर्ष चल रहा है  और जूलियस बेर शतरंज टूर के पहले पड़ाव पोल्गर शतरंज मे दो दिन के खेल मे ही यह साफ दिख रहा है की भारतीय खिलाड़ी दुनिया के इन युवा खिलाड़ियों की दौड़ मे असल मे लंबी रेस के घोड़े है । दो दिन मे हुए 10 राउंड के बाद भारत के आर प्रग्गानंधा बेहद शानदार खेल दिखाते हुए लगातार 8 जीत के दम पर 8.5 अंक बनाकर पहले स्थान पर चल रहे है , इस दौरान निहाल सरीन पर उनकी जीत बेहद शानदार रही । खैर गुकेश और निहाल भी 7 अंक बनाकर बहुत पीछे नहीं है और टॉप 5 मे शामिल है , ऐसे मे जब 9 राउंड और खेले जाने है खिताब कौन जीतेगा कहना मुश्किल है ? पढे यह लेख 

15 वर्षीय प्रणव बने तामिलनाडु राज्य शतरंज विजेता

07/04/2021 -

तामिलनाडु के 15 वर्षीय खिलाड़ी प्रणव वी नें कोविड के आने के बाद आयोजित हुई  देश की पहली ऑन द बोर्ड शतरंज चैंपियनशिप जीत ली है । तामिलनाडु राज्य सीनियर शतरंज का यह 67वां संस्करण था और चूकी इस खेल मे देश को तामिलनाडु नें विश्वनाथन आनंद से लेकर कई बड़े नाम दिये है इस राज्य स्पर्धा को राष्ट्रीय स्तर के समकक्ष माना जाता रहा है । प्रतियोगिता मे कुल 374 खिलाड़ियों नें भाग लिया और कुल 9 राउंड स्विस फॉर्मेट के आधार पर खेले गए जिसमें प्रणव नें 9 मे से 9 मुक़ाबले जीतकर ना सिर्फ खिताब जीता बल्कि एक नया रिकार्ड भी कायम किया ।2348 फीडे रेटिंग वाले प्रणव नें इस जीत से 2512 रेटिंग का प्रदर्शन करते हुए अपनी अंतरराष्ट्रीय रेटिंग मे 19 अंक भी जोड़े । ईटरनेशनल मास्टर रामनाथन बालसुबरमानयम 7.5 अंक बनाकर दूसरे तो इतने ही अंक बनाकर टाईब्रेक मे एआर इलाम्पार्थी तीसरे स्थान पर रहे 

जूलियस बेर टूर - निहाल, प्रग्गा ,गुकेश और लियॉन खेलेंगे , जूडिथ और क्रामनिक की टीम में होगा मुक़ाबला

06/04/2021 -

विश्व शतरंज के कई महान खिलाड़ी हुए , उनमें से कई नें हमेशा अपने खेल पर ध्यान रखा और खेल से सन्यास लेते ही खेल से दूर हो गए पर कई ऐसे भी हुए जिन्होने खुद के खेल छोड़ने के बाद शतरंज खेल और इसके युवा खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के प्रयास किए । 14 वे विश्व चैम्पियन ब्लादिमीर क्रामनिक और महिला शतरंज इतिहास की महानतम खिलाड़ी जूडिथ पोल्गर और मेगनस ग्रुप नें मिलकर कुछ ऐसा करने की ठानी है जो इससे पहले कभी नहीं हुआ । दुनिया के 20 चोटी के युवा जूनियर खिलाड़ी टीम क्रामनिक और टीम पोल्गर के लिए जूलियस बेर चेलेंजर के लिए खेलते नजर आएंगे । इस टीम के चयन मे बालक और बालिका खिलाड़ियों को बराबर महत्व देते हुए एक खास संदेश दिया गया है । भारत से निहाल सरीन , आर प्रग्गानंधा , डी गुकेश और लियॉन मेन्दोंसा को इसके लिए चयनित किया गया है । जबकि टीम को कोच करने के लिए भी कई बड़े नाम सामने आए है । कब से होगा यह मुक़ाबला कौन कौन से और खिलाड़ी आएंगे नजर पढे यह लेख

आनंद और हम्पी बने दशक के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी

04/04/2021 -

विश्वनाथन आनंद और कोनेरु हम्पी निर्विवाद तौर पर शतरंज मे देश के महानतम पुरुष और महिला खिलाड़ी है पर अगर हम इसे सभी खेलो के परीपेक्ष्य मे देखे तो उस बड़ी तस्वीर मे भी ये दोनों गहरे रंगो मे मजबूती से नजर आते है कारण है इनके द्वारा हासिल की गयी उपलब्धियां । भारतीय खेल जगत मे खेल का सर्वश्रेष्ठ पूरुष्कार राजीव गांधी खेल रत्न सबसे पहले विश्वनाथन आनंद को 1992 मे दिया गया था और यह तो युवा आनंद के सपनों की उड़ान की शुरुआत थी वही कोनेरु हम्पी नें इसके दस साल बाद 2002 से अपनी छाप दुनिया मे छोड़ना शुरू की । खैर गत दिवस इन दोनों खिलाड़ियों की पिछले 10 वर्ष का सर्वश्रेष्ठ स्पोर्ट्स स्टार खिलाड़ी ( नॉन ओलंपिक स्पोर्ट्स ) चुना गया है जो शतरंज जगत के लिए बेहद गर्व की बात है । पढे यह लेख 

एशियन U14 नेशंस कप - भारत नें जीता स्वर्ण पदक

02/04/2021 -

भले ही ऑन द बोर्ड शतरंज के मुक़ाबले कोविड के चलते बंद है पर ऑनलाइन शतरंज से भारत के लिए लगातार अच्छी खबर आती रहती है , इस बार खबर आई है अंडर 14 आयु वर्ग की एशियन नेशंस कप शतरंज चैंपियनशिप से जहां पर भारत नें एक नहीं दो पदक हासिल किए है , टीम फॉर्मेट मे हुई इस चैंपियनशिप मे भारत की ए टीम नें स्वर्ण तो बी टीम नें कांस्य पदक हासिल किए जबकि ईरान की टीम रजत पदक हासिल करने मे कामयाब रही । ऑनलाइन खेले गए इस टूर्नामेंट मे एशिया की कुल 32 टीम नें  भाग लिया था , टूर्नामेंट को 9 राउंड के स्विस फॉर्मेट मे खेला गया जिसमें भारतीय टीम नें एक बार फिर साबित किया की भारत की युवा पीढ़ी किस स्तर का खेल जानती है , पढे यह लेख 

नॉर्वे शतरंज अब मई की जगह सितंबर मे होगा

01/04/2021 -

कोविड 19 के चलते जहां एक और रैपिड और ब्लिट्ज ऑनलाइन शतरंज को खूब बढ़ावा मिला है तो क्लासिकल ऑन द बोर्ड शतरंज को सबसे ज्यादा खामियाजा भुगतना पड़ा है । पिछले वर्ष कई देशो मे कोरोना के घटते प्रभाव के चलते एक बार फिर क्लासिकल शतरंज के ऑन द बोर्ड मुक़ाबले शुरू हो गए थे और लगने लगा था की परिस्थितियाँ जल्द ही सामान्य होंगी । पिछले वर्ष सुपर ग्रांड मास्टर टूर्नामेंट मे सही मायनों मे नॉर्वे शतरंज से क्लासिकल शतरंज शुरू हुआ था और इस वर्ष मई मे इसका अगला संस्करण खेला जाना तय हुआ था पर कोविड की मौजूदा स्थितियों के चलते अब इस टूर्नामेंट को सितंबर तक टाल दिया गया है । पढे यह लेख 

यूरोपियन क्लब शतरंज : विदित गुजराती रहे अपराजित

31/03/2021 -

यूरोपियन  क्लब शतरंज चैंपियनशिप का समापन हो गया है और भले ही तीन भारतीय सितारों से सजी चेक गणराज्य की नोवि बार टीम फाइनल मे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी है पर इस टीम को फाइनल तक लाने मे खास भूमिका निभाने वाले विदित गुजराती नें इस टूर्नामेंट के अंत तक एक भी मैच नहीं हारा और अपराजित रहे । उन्होने सबसे पहले ग्रुप चरण मे 6 जीत एक ड्रॉ के साथ 6.5 अंक , फिर प्ले ऑफ मे 5 मैच मे से 2 जीत और 3 ड्रॉ से 3.5 अंक बनाए थे और फाइनल चरण मे खेले गए 8  मैच मे 2 जीत और 6 ड्रॉ से 5 अंक बनाए और इस प्रकार कुल 20 मुक़ाबले खेलकर 10 जीत और 10 ड्रॉ खेलकर 15 अंक बनाए । पढे यह लेख 

समय रैना नें जीता सीओबी ऑल स्टार्स शतरंज

30/03/2021 -

कोमेडियन समय रैना नें आखिरकार वो कर दिखाया जो वो काफी दिनो से करना चाहते थे सीओबी ऑल स्टार्स शतरंज का खिताब जीतकर उन्होने साबित किया की पिछले एक वर्ष से शतरंज को लेकर उन्होने जो कुछ भी किया वह उन्हे एक खिलाड़ी के तौर पर भी बेहतर बना रहा था । खैर फाइनल मुक़ाबले मे उनके सामने थे बिसवा कल्याण रथ जिन्होने लगभग खिताब अपनी मुट्ठी मे कर लिया था पर अंत समय मे उनकी एक भारी भूल नें समय को वापसी का मौका दिया जिसे भुनाते हुए समय नें पहले तो स्कोर बराबर किया और फिर उसके बाद टाईब्रेक मे तो बिना कोई मौका दिये खिताब अपने नाम कर लिया । पढे यह लेख और देखे समय की जीत का विडियो विश्लेषण 

यूरोपियन क्लब शतरंज - विदित और शशिकिरण का तूफानी खेल

28/03/2021 -

भारत के नंबर तीन शतरंज खिलाड़ी ग्रांड मास्टर विदित गुजराती और अनुभवी ग्रांड मास्टर कृष्णन शशिकिरण के बेहतरीन खेल के कारण यूरोपियन क्लब कप ऑनलाइन शतरंज टूर्नामेंट में नोवी बार टीम नें लीग चरण के अपने सभी 9 मुक़ाबले जीतकर शानदार अंदाज मे अपने वर्ग मे ना सिर्फ पहला स्थान हासिल किया है बल्कि प्ले ऑफ मे भी अपनी जगह तय कर ली है । विदित गुजराती नें कुल 7 राउंड खेलकर 6.5 तो शशिकिरण नें 6 मैच खेलकर टीम के लिए 5.5 अंक बनाए । राउंड 6 और 7 के दौरान भारत के नंबर 2 खिलाड़ी पेंटाला हरिकृष्णा भी इसी टीम के लिए खेलते नजर आए और 1.5 अंक बनाते हुए टीम की जीत मे योगदान दिया । पढे यह लेख 

बांग्लादेश शतरंज लीग - गुकेश का 2991 का प्रदर्शन

25/03/2021 -

भारत में भले ही हम जल्द ही अंतर्राष्ट्रीय शतरंज लीग के शुरू होने की सुगबुगाहट सुन रहे है लेकिन भारत का पड़ोसी देश बांग्लादेश इस मामले में थोड़ा आगे नजर आ रहा है । इस वर्ष बांग्लादेश की सैफ पावरटेक  प्रिमियर डिविसिन शतरंज लीग में भारत के कई खिलाड़ियों को शामिल किया गया है । ऑन द बोर्ड हो रहे इस मुक़ाबले में कुल 11 टीम के बीच राउंड रॉबिन मुक़ाबले चल रहे है ।भारत के डी गुकेश नें अब तक खेले सभी मैच जीतकर 2991 का रेटिंग प्रदर्शन दिखाया है तो  फिलहाल ग्रांड मास्टर सूर्या शेखर गांगुली और रौनक साधवानी की टीम बांग्लादेश पोलिस अपने सभी छह मैच जीतकर सबसे आगे चल रही है और खिताब हासिल करने की प्रबल दावेदार नजर आ रही है । पढे यह लेख

पी इनियन नें जीता फीडे यूनिवर्सिटी ब्लिट्ज़ रजत पदक

23/03/2021 -

फीडे की पहली ऑनलाइन विश्वविदयालय शतरंज चैंपियनशिप मे भारत के इनियन पी नें व्यक्तिगत स्पर्धा मे रजत पदक हासिल किया है । उन्होने यह कारनामा ब्लिट्ज़ वर्ग मे किया है । टूर्नामेंट की व्यापकता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है की इस टूर्नामेंट मे 73 देशो के 1002 खिलाड़ी खेल रहे है । खैर ब्लिट्ज़ मे कुल 272 खिलाड़ियों को चार वर्गो मे बांटा गया और इसके बाद शीर्ष दो खिलाड़ियों को फाइनल चरण मे राउंड रॉबिन 7 मुक़ाबले खेलने थे जिसमें इनियन नें पहला मैच हारने के बाद शानदार वापसी करते हुए 5.5 अंक बनाकर यह पदक हासिल किया । अर्मेनिया नें पुरुष और महिला दोनों ही वर्गो का स्वर्ण पदक हासिल किया पढे यह लेख 

अनीश गिरि बने मेगनस इनविटेशनल विजेता

22/03/2021 -

पिछले कुछ समय से लगातार बेहतर होते जा रहे नीदरलैंड के अनीश गिरि नें आखिरकार ऑनलाइन शतरंज के सबसे कड़े टूर्नामेंट मेगनस इनविटेशनल का खिताब अपने नाम कर दिया । सेमी फाइनल मे विश्व चैम्पियन नॉर्वे के मेगनस कार्लसन को मात देकर फाइनल मे पहुंचे रूस के इयान नेपोंनियची के ख़िताबी जीत के स्वपन को तोड़ते हुए अनीश गिरि नें यह खिताब हासिल किया । अनीश और नेपो के दोनों दिन के बाद स्कोर 2-2 रहा था और ऐसे मे हुए टाईब्रेकर मे अनीश नें 2-0 की शानदार जीत से शानदार पहला स्थान हासिल किया और नेपो को दूसरे स्थान से संतोष करना पड़ा । यूएस के वेसली सो को मात देकर मेगनस कार्लसन नें तीसरे स्थान पर रहकर टूर्नामेंट खत्म किया । पढे यह लेख 

मेगनस इनविटेशनल - नेपो और अनीश ? कौन बनेगा सरताज ?

21/03/2021 -

विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन के लिए अब ख़िताबी जीत अब एक लंबा चलने वाला बुरा सपना बन चुका है और इस बार जब मेगनस इनविटेशनल मे लग रहा था की वह लय मे लौट आए है रूस के इयान नेपोंनियची नें उनके विजय रथ को ध्वस्त करते हुए फाइनल मे प्रवेश कर लिया । वही अनीश गिरि नें लगातार दूसरे दिन वेसली सो को मात देते हुए धमाकेदार अंदाज मे फाइनल मे जगह बना ली थी। अब दोनों खिलाड़ियों के बीच पहले दिन हुए फाइनल मे बेहतर स्थिति के बाद भी अनीश बढ़त नहीं बना पाये और ऐसे मे जब पहला दिन 2-2 से बराबरी पर रहा है तो दूसरे दिन के मैच ही निर्णायक बन गए है । वही फाइनल मे ना पहुँचने का गुस्सा कार्लसन नें वेसली सो के उपर निकाला और 3-1 से उन्हे हराकर पहले दिन बढ़त कायम कर ली है । पढे यह लेख