chessbase india logo

टाटा स्टील मास्टर्स 2024: क्या गुकेश , प्रज्ञानन्दा और विदित में से कोई जीतेगा खिताब ?

26/01/2024 -

शतरंज का विम्बलडन कहे जाने वाले टाटा स्टील मास्टर्स शतरंज 2024 अब अपने अंतिम पड़ाव पर आ गया है और अब जबकि सिर्फ तीन राउंड बाकी है सभी इसका कयास लगा रहे है की इस बार इसका खिताब क्या कोई युवा खिलाड़ी अपने नाम करेगा ? साथ ही भारतीय खिलाड़ियों की निगाहे इस बात पर है की क्या कोई भारतीय विश्वनाथन आनंद के बाद इस प्रतिष्ठित खिताब को जीतेगा ? टाटा स्टील शतरंज जो कभी कोरस टूर्नामेंट के नाम से भी जाना जाता था , आनंद उसके इतिहास के दूसरे सबसे सफल खिलाड़ी रहे है और उन्होने 1989 से 2006 के दौरान पाँच बार यह खिताब जीता है जबकि कार्लसन 8 खिताब के साथ सबसे सफल खिलाड़ी रहे है । 2008 में कार्लसन नें जब यह खिताब जीता तो वह महज 18 साल के थे ऐसे में गुकेश और प्रज्ञानन्दा के पास कार्लसन के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ने या बराबर करने का मौका है । दसवें राउंड में गुकेश की जीत नें उन्हे फिलहाल इस दौड़ में सबसे आगे कर दिया है । पढे यह लेख 

ChessBase 17 and Mega 2024 are here

ChessBase 17 is an all-new program that helps you manage all your databases as an ambitious player. Mega Database 2024 has 10.4 million games with over 112,000 games annotated by masters. The cost of ChessBase 17 is Rs.4199/- and the cost of Mega Database 2024 is Rs.5999/- However, if you go for the combo the total amount comes to Rs.8999/- helping you save Rs. 1198/-.

फीडे के बोरिस बने इंदौर ओपन के विजेता

18/01/2024 -

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी और भारत के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में सम्पन्न हुए द्वितीय इंदौर ओपन इंटरनेशनल ग्रांड मास्टर्स शतरंज टूर्नामेंट का खिताब दूसरे वरीय फीडे के ग्रांड मास्टर  बोरिस सवचेंकों नें अपने नाम कर लिया , बड़ी बात यह रही की उन्होने यह खिताब अंतिम राउंड में एक शानदार मुक़ाबला जीतकर हासिल किया । अंतिम राउंड के पहले बोरिस और बेलारूस के अलेक्सी फेडोरोव 7.5 अंको पर थे पर बोरिस नें अपना मैच जीतकर पहला स्थान हासिल किया जबकि फेडोरोव ड्रॉ करते हुए उपविजेता रहे , उन्हे भारत के गौतम कृष्णा नें ड्रॉ पर रोका ओर इंटरनेशनल मास्टर नार्म हासिल किया , अंतिम राउंड में जीत दर्ज करते हुए भारत के ताल कहे जाने वाले रत्नाकरण तीसरे स्थान पर रहे । टूर्नामेंट का आयोजन मालवांचल शतरंज द्वारा आईपीएस अकादमी इंदौर में किया गया था । पढे यह लेख 

टाटा स्टील मास्टर्स 2024: R4: प्रज्ञानन्दा नें विश्व चैम्पियन डिंग को दी मात

17/01/2024 -

आपके सामने विश्व चैम्पियन हो और आप इस वास्तविकता से परिचित भी हो की एक दिन इस खिलाड़ी को हराकर खुद का विश्व चैम्पियन बनने का सपना पूरा हो सकता है ऐसे में अपना सर्वश्रेष्ठ कर के दिखा दो तो आपका नाम प्रज्ञानन्दा ही हो सकता है ! टाटा स्टील मास्टर्स शतरंज के चौंथे दिन भारत के 18 वर्षीय ग्रांड मास्टर आर प्रज्ञानन्दा नें चीन के मौजूदा विश्व चैम्पियन डिंग लीरेन को पराजित करते हुए एक नया इतिहास बनाया , इतिहास इसीलिए की डिंग लीरेन के विश्व चैम्पियन बनने के बाद उनको क्लासिकल में पराजित करने वाले प्रज्ञानन्दा पहले भारतीय है । चौंथे राउंड में मेजबान नीदरलैंड के अनीश गिरि नें भारत के डी गुकेश को पराजित करते हुए टूर्नामेंट में एकल बढ़त बना ली है , विदित गुजराती नें नीदरलैंड के वान फॉरेस्ट से ड्रॉ खेलते हुए टूर्नामेंट में लगातार चौंथा ड्रॉ खेला । पढे यह लेख ... Photos by Jurriaan Hoefsmit / Lennart Ootes/Tata Steel Chess Tournament 2024

टाटा स्टील मास्टर्स 2024: R3: डिंग से हारे गुकेश,अनीश की दूसरी जीत

16/01/2024 -

86वें टाटा स्टील सुपर ग्रांड मास्टर्स शतरंज के तीसरे दिन खेले गए सात मुकाबलों में एक बार फिर 4 मुक़ाबलो के परिणाम जीत और हार के तौर पर सामने आए जबकि 3 मुक़ाबले बेनतीजा रहे । अब तक खेले गए 21 मुकाबलों में से कुल 11 के परिणाम जीत हार से आए है जो की इस टूर्नामेंट में चल रही जोरदार प्रतिस्पर्धा को दर्शा रहा है । दूसरे राउंड में अपनी पहली जीत दर्ज करने वाले भारत के डी गुकेश को तीसरे राउंड में अपनी पहली हार का सामना करना पड़ा और यह हार आई मौजूदा विश्व चैम्पियन डिंग लीरेन के हाथो , मेजबान नीदरलैंड के अनीश गिरि अपनी दूसरी जीत करने में काम्याब रहे तो उज्बेकिस्तान के अब्दुसत्तोरोव और नीदरलैंड के योर्डन फॉरेस्ट को अपनी पहली जीत मिली । पढे यह लेख  Photos by Jurriaan Hoefsmit

टाटा स्टील मास्टर्स 2024: R2: गुकेश की वे यी पर शानदार जीत

15/01/2024 -

टाटा स्टील मास्टर्स शतरंज के दूसरे दिन भी तीन परिणाम निकले , दूसरे दिन भारत के लिए शानदार खबर लेकर आया डी गुकेश का मुक़ाबला , जिसमें उन्होने चीन के वे यी को काले मोहरो से पराजित करते हुए टूर्नामेंट में अपनी पहली जीत दर्ज की । फीडे कैंडिडैट के ठीक पहले गुकेश के लिए यह जीत उनके आत्मविश्वास को तो बढ़ाएगी ही साथ ही 13 राउंड के टूर्नामेंट का यह अनुभव भी उनके लिए  बेहद काम आएगा । वहीं फ्रांस के अलीरेजा फिरौजा नें लगातार दूसरी जीत करते हुए एकल बढ़त बना ली है , अलीरेजा नें दूसरे राउंड में ईरान के परहम मघसूदलू को पराजित किया , नीदरलैंड के मैक्स दूसरे दिन जीतने वाले तीसरे खिलाड़ी रहे उन्होने योर्डन फॉरेस्ट को मात दी , भारत के विदित गुजराती और आर प्रज्ञानन्दा नें लगातार दूसरे दिन अपनी बाज़ियाँ ड्रॉ खेली । पढे यह लेख Photos by Jurriaan Hoefsmit

टाटा स्टील मास्टर्स 2024 :R1: 4 जीत- हार के साथ हुआ आगाज

14/01/2024 -

कहावत है की "आगाज ऐसा है तो अंजाम कैसा होगा " शतरंज का विम्बलडन मतलब टाटा स्टील मास्टर्स 2024 का आरंभ हो गया है और पहले ही दिन सात में से चार राउंड के परिणाम सामने आने से सभी शतरंज प्रेमी कुछ ऐसा ही सोच रहे है । विश्व चैम्पियन चीन के डिंग लीरेन समेत आने वाले फीडे कैंडिडैट के पाँच प्रतिभागियों के इस टूर्नामेंट खेलने से दुनिया भर की निगाहे इस इतिहासिक महत्व वाली स्पर्धा के 86वे संस्करण में लगी हुई है । पहले दिन फीडे के नेपोमनिशी,चीन के वे यी , नीदरलैंड के अनीश गिरि और फ्रांस के अलीरेजा फिरौजा जीत के साथ अपना खाता खोलने में सफल रहे जबकि भारत के तीनों खिलाड़ी विदित गुजराती , आर प्रज्ञानन्दा और डी गुकेश नें ड्रॉ खेलते हुए अपने अभियान की शुरुआत की । पढे यह लेख   

Photos by Jurriaan Hoefsmit

इंदौर जीएम ओपन : बोरिस को हराकर दीपन नें बनाई बढ़त

11/01/2024 -

लगातार सातवीं बार भारत के सबसे स्वच्छ शहर का खिताब अपने नाम करने वाले मध्य प्रदेश के इंदौर में चल रहे इंदौर इंटरनेशनल ग्रांड मास्टर टूर्नामेंट के चौंथे दिन के बाद भारत के अनुभवी ग्रांड मास्टर दीपन चक्रवर्ती नें प्रतियोगिता में लगातार चौंथी जीत दर्ज करते हुए एकल बढ़त कायम कर ली है । दीपन नें आज चौंथे राउंड में दूसरे वरीय फीडे के ग्रांड मास्टर बोरिस शावचेंकों को पराजित करते हुए  अपना चौंथा अंक बनाया । युवा खिलाड़ियों में आज मध्य प्रदेश के प्रखर बजाज नें दसवें बोर्ड पर इंटरनेशनल मास्टर कुशाग्र मोहन को पराजित करते हुए बड़ा उलटफेर किया और फिलहाल ग्रांड मास्टर इनियन पी समेत 10 टाइटल खिलाड़ियों के साथ सयुंक्त दूसरे स्थान पर चल रहे है । 10 राउंड के इस टूर्नामेंट में कल दो राउंड खेले जाएँगे । पढे यह लेख  ....

Photo : Satyam vishwakarma

इंदौर ग्रांड मास्टर्स टूर्नामेंट : सौरभ नें श्रीलंका के तिलकरत्ने को हराकर किया उलटफेर

09/01/2024 -

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी और देश के सबसे साफ नगर की उपाधि अपने पास रखने वाले इंदौर में आज से इंदौर इंटरनेशनल ग्रांड मास्टर्स शतरंज का दूसरा संसकरण आरंभ हो गया, इस टूर्नामेंट में 15 देशो के खिलाड़ी भाग ले रहे है जिसमें कुल 10 ग्रांड मास्टर्स समेत 59 टाइटल खिलाड़ी शामिल है । प्रतियोगिता के टॉप सीड भारत के ग्रांड मास्टर इनियन पा है जिन्होने आज हमवतन अरुण कटारिया पर जीत दर्ज करते हुए अपने अभियान शुरुआत की उनके अलावा शीर्ष ग्रांड मास्टरों में फीडे के बोरिस सावचेंकों , बेलारूस के अलेक्सी फेडोरोव नें भी जीत के साथ शुरुआत की , आज पहले राउंड में सबसे बड़ा उलटफेर किया मध्य प्रदेश के 80वीं वरीयता वाले सौरभ चौबे नें जिन्होने श्रीलंका के 15वें वरीय इंटरनेशनल मास्टर जीएचएम तिलकरत्ने को सफ़ेद मोहरो से खेलते हुए पराजित किया । 10 राउंड की तय प्रतियोगिता 16 जनवरी तक खेली जाएगी । पढे यह लेख  , फोटो - हर्षित डावर / चैसबेस इंडिया 

टाटा स्टील मास्टर्स 2024 : पाँच कैंडिडैट पर होगी सबकी नजरे

08/01/2024 -

विश्व के सबसे प्रतिष्ठित शतरंज टूर्नामेंट और शतरंज का विम्बलडन कहे जाने वाले टाटा स्टील मास्टर्स 2024 को शुरू होने में अब सिर्फ तीन दिन बाकी है और पूरी दुनिया के शतरंज प्रेमियों की नजरे इस टूर्नामेंट का इंतजार कर रही है और इस बार इसका आयोजन और खास इसलिए भी बन पड़ा है क्यूंकी इसे कैंडिडैट जितना मजबूत टूर्नामेंट माना जा रहा है । जहां कैंडिडैट में कुल 14 क्लासिकल राउंड होते है तो टाटा स्टील में 13 क्लासिकल मुक़ाबले खेले जाएँगे और बड़ी बात यह है की इस बार इस टूर्नामेंट के 14 खिलाड़ियों में पाँच खिलाड़ी ऐसे है जो 2024 का फीडे कैंडिडैट खेल रहे है और साथ ही वर्तमान विश्व चैम्पियन डिंग लीरेन का इसमें खेलना इसे और रोचक बना रहा है । पढे यह लेख 

फीडे पहली बार आयोजित करेगा बच्चो का विश्व कप

06/01/2024 -

विश्व शतरंज संघ नें एक नवीन कदम में, युवा शतरंज खिलाड़ियों के लिए पहला फीडे विश्व कप 22 जून से 3 जुलाई, 2024 तक जॉर्जिया में आयोजित करने का निर्णय लिया है । इस बारे में बयान जारी करते हुए शतरंज की वैश्विक संस्था फीडे नें कहा की “इस नए आयोजन का उद्देश्य एक संशोधित प्रणाली के साथ युवा शतरंज परिदृश्य को फिर से परिभाषित करना और युवा शतरंज खिलाड़ियों के लिए अधिक अवसर प्रदान करना है” । फीडे का यह कदम भारत जैसे प्रतिभा सम्पन्न देशो के लिए एक अच्छा अवसर साबित होगा जहां युवा प्रतिभाओं की एक पूरी पीढ़ी हर साल तैयार हो रही है । इसके अलावा हर वर्ष होने वाले फीडे विश्व यूथ चैंपियनशिप भी हमेशा की तरह आयोजित की जाएगी । पढे यह लेख  Photo : Anna Shtourman

प्रज्ञानन्दा और अदानी ग्रुप में करार , लंबे समय तक प्रायोजित करेगा अदानी ग्रुप

05/01/2024 -

भारतीय शतरंज ग्रांड मास्टर आर प्रज्ञानन्दा को फीडे विश्व कैंडिडैट के ठीक पहले दिग्गज व्यवसायी गौतम अडाणी के रूप में नया प्रशंसक मिला है जिन्होंने गुरुवार को इस 18 वर्षीय ग्रैंडमास्टर का सहयोग करने के फैसले की घोषणा की। अडाणी ने ‘एक्स' पर प्रज्ञानांनदा के साथ मुलाकात की अपनी फोटो साझा की जिसमें उन्होंने चेन्नई के इस स्टार खिलाड़ी को भारत के अनगिनत युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत करार दिया। कैंडिडैट की तैयारी कर रहे प्रज्ञानन्दा के खेल जीवन में यह करार बेहद महत्वपूर्ण साबित हो सकता है , क्यूंकी इससे उनके ट्रेनिंग और सही टूर्नामेंट खेलते समय तैयारी में बहुत मदद हो सकती है, पढे यह लेख 

जनवरी फीडे रेटिंग : हम्पी - गुकेश को मिला कैंडिडैट में स्थान, मार्च से बदलेगी रेटिंग , टॉप 100 में 11 भारतीय

04/01/2024 -

फीडे द्वारा जनवरी माह की रेटिंग लिस्ट जारी करने के साथ ही भारतीय शतरंज के लिए एक और दो शानदार खबरे दी है तो अब एक मार्च से फीडे रेटिंग लिस्ट में होने वाले बदलावों में भी मुहर लगा दी है । जवारी की रेटिंग लिस्ट आते ही सबसे बड़ी दो अपेक्षित अच्छी खबर मिली और वह थी फीडे कैंडिडैट में गुकेश का पुरुष वर्ग में और महिला वर्ग में कोनेरु हम्पी का जगह बनाना और इसके साथ ही अब आने वाले कैंडिडैट में कुल पाँच भारतीय खिलाड़ी प्रज्ञानन्दा , विदित , गुकेश , हम्पी और वैशाली खेलते हुए नजर आएंगे । जनवरी में अब यह भी तय कर दिया गया है की आगामी एक मार्च के बाद खिलाड़ियों की शुरुआती रेटिंग को 1000 के स्थान पर बढ़ाकर 1400 कर दिया जाएगा । इसके साथ ही एक जनवरी को जारी रेटिंग के बाद भारत के छह खिलाड़ी एक बार फिर से 2700 के पार है जबकि कुल 11 खिलाड़ी विश्व के टॉप 100 में शामिल हो गए है । पढे यह लेख 

कार्लसन और गुनिना बने विश्व ब्लिट्ज़ चैम्पियन

02/01/2024 -

विश्व ब्लिट्ज़ शतरंज का समापन दो खास परिणामों के साथ हुआ ,पहला खास परिणाम यह था की विश्व के नंबर एक खिलाड़ी मैगनस कार्लसन नें आखिरकार एक बार फिर से रैपिड के बाद ब्लिट्ज़ का दोहरा खिताब हासिल कर लिया और यह बात साबित कर दी की वर्तमान में उपलब्धियों के मामले में कोई भी उनके आस पास भी खड़ा नहीं होता है ,कार्लसन का ब्लिट्ज़ का यह सातवाँ और कुल 17वां विश्व खिताब रहा । अंतिम स्कोर में कार्लसन 16 अंक बनाकर पहले स्थान पर रहे । दूसरा खास परिणाम था गुनिना वालेंटीना का विश्व महिला ब्लिट्ज़ का खिताब जीतना ,अपने जीवन में कुछ स्वास्थ्य सबंधी समस्याओं से जूझती गुनिना 2012 में यह खिताब जीत चुकी थी पर उसके बाद कई बार खिताब के करीब आकर वह चूकी थी पर इस बार उनका जुनून सब पर भारी पड़ा और उन्होने अंतिम राउंड में वर्तमान क्लासिकल विश्व चैम्पियन जु वेंजून को मात देते हुए यह उपलब्धि हासिल की । पढे यह लेख  तस्वीरे : चेसबेस इंडिया और फीडे 

अनासतसिया बनी विश्व महिला रैपिड विजेता , हम्पी उपविजेता

29/12/2023 -

सब कुछ 2019 जैसा लग रहा था , जब भारत की महानतम महिला खिलाड़ी ग्रांड मास्टर कोनेरु हम्पी नें विश्व रैपिड के अंतिम राउंड में शानदार प्रदर्शन करते हुए फाइनल टाईब्रेक में जगह बनाई थी और उसके बाद चीन की ली टिंगजे को मात देकर अपना पहला विश्व महिला रैपिड का खिताब जीता था , इस बार भी हम्पी नें टाईब्रेक में रूस की अनासतसिया के खिलाफ पहला मुक़ाबला जीतकर बढ़त हासिल कर ली पर उसके बाद उनके लिए अगले तीन राउंड एक बुरे सपने के जैसे रहे जहां हर मैच में बेहतर होते हुए भी वह समय के दबाव में बिखर गयी और विश्व रैपिड का खिताब टूर्नामेंट की 51वीं वरीय रूस की अनासतसिया बोदनारुक नें अपने नाम कर लिया , मैच के बाद उन्होने कहा " हम्पी मुझसे बेहतर खेली पर मैं उनसे तेज खेली और यही मेरी जीत का कारण बना " । हम्पी को उस इस बार रजत पदक तो चीन की लेई टिंगजे का कांस्य पदक हासिल हुआ । पढे यह लेख .... तस्वीर फीडे और चेसबेस इंडिया 

कार्लसन पाँचवीं बार बने विश्व रैपिड शतरंज चैम्पियन

29/12/2023 -

और मैगनस कार्लसन नें एक बार फिर दुनिया को दिखा दिया की फिलहाल अभी भी उनकी बादशाहत को चुनौती देना आसान नहीं है और लगातार दूसरी बार और कुल पाँचवीं बार विश्व रैपिड शतरंज का खिताब अपने नाम कर लिया । मैगनस कार्लसन नें रैपिड विश्व चैंपियनशिप के आखिरी दिन लगातार दो जीत और दो ड्रॉ से अपनी ख़िताबी जीत सुनिश्चित की । 13 राउंड के बाद कार्लसन 10 अंक बनाकर विजेता बने और शतरंज के तीनों फॉर्मेट मिलाकर उनका यह कुल 16वां खिताब रहा और अब कम से कम हर  फॉर्मेट में उनके पास पाँच विश्व खिताब है और ऐसा करने वाले वह दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए है । भारत के विदित अपने शानदार प्रदर्शन के बाद भी 12वे राउंड में फेडोसीव से जीती बाजी हारकर चौंथे स्थान पर रहे जबकि फेडोसीव नें रजत और यू यांगयी नें कांस्य पदक अपने नाम कर लिया । पढे यह लेख ... तस्वीरे : फीडे और चेसबेस इंडिया 

Contact Us