chessbase india logo

विश्व चैंपियनशिप – हरिका और पदमिनी से उम्मीद !!

by निकलेश जैन - 11/02/2017

तेहरान । ईरान का नाम सुनते ही हर शतरंज प्रेमी के जहन में वर्ष 2000 में विश्वनाथन आनंद के पहले बार विश्व खिताब जीतने की यादे ताजा हो जाती है नगर वही है देश वही है और उम्मीद भी कुछ ऐसी ही है इस बार तेहरान में 10 फरवरी से 3 मार्च के दौरान आयोजित महिला विश्व शतरंज चैंपियनशिप में पिछली बार की सेमीफाइनलिस्ट भारत की ग्रांड मास्टर हरिका द्रोणावली प्रमुख दावेदार होंगी उन्हे प्रतियोगिता में चतुर्थ वरीयता दी गयी है उनका पिछले 3 सालों के प्रदर्शन  देखे तो वो लगातार बेहतर हुई है और परिपक्व भी ऐसे में उनसे इस खेल में सर्वोच्च स्थान हासिल करने की उम्मीद होना तो स्वाभाविक ही है । लगातार तीन बार की राष्ट्रीय विजेता पदमिनी राऊत भी भारत के लिए दूसरी उम्मीद होंगी । विश्व चैम्पियन हाऊ ईफ़ान और कोनेरु हम्पी जैसी खिलाड़ियों की गैर मौजूदगी में देखना दिलचस्प होगा की इस नॉक आउट स्पर्धा में कौन बाजी मारता है । 

जिस खेल का जन्म भारत में हुआ उस खेल में आनंद नें तो भारत को पुरुष विश्व खिताब दिलाया पर महिला वर्ग में यह खिताब भारत से हमेशा 1 कदम दूर ही रहा भारत की शीर्ष महिला खिलाड़ी कोनेरु हम्पी (जो की व्यक्तिगत कारणो से स्पर्धा से हट गयी है ) तीन बार खिताब के नजदीक जाकर उसे जीत नहीं सकी । हरिका के अलावा भारत की वर्तमान महिला राष्ट्रीय विजेता पदमिनी राऊत भी इस प्रतियोगिता में भारत के ओर से खेलती नजर आएंगी  पदमिनी को प्रतियोगिता में 40वी वरीयता दी गयी है उनका आक्रामक खेल उन्हे कोई भी उलटदेर करने में सक्षम बनाता है देखना होगा उनकी यह पहली विश्व स्पर्धा उन्हे किस पड़ाव तक ले जाती है ।

 

पहले चरण में बांग्लादेश की 31वी वरीयता प्राप्त शमीमा अख्तर से हरिका मुक़ाबला खेलेंगी जबकि पदमिनी को 25वी वरीयता प्राप्त अमेरिकन ग्रांड मास्टर एलिना दनिएलीयन मुक़ाबला खेलना होगा

विश्व भर से कुल 64 खिलाड़ी इस 64 खानो की महिला विश्व चैंपियनशिप में भाग ले रहे है प्रतियोगिता नॉक आउट आधार पर खेली जावेगी । हर राउंड में दो मैच क्लासिकल खेले जाएंगे परिणाम ना निकलने पर रैपिड और ब्लीट्ज़ के टाई ब्रेक मुक़ाबले खेलकर अगले चरण में खिलाड़ी का चयन किया जाएगा ।

चीन की विश्व नंबर 2 जु वेंजून , उक्रेन की अन्ना मुज़्यचुक और रूस की पूर्व विश्व चैम्पियन अलेक्ज़ेंड्रा कोस्टेनिऊक हरिका की प्रमुख प्रतिद्वंदी हो सकती है ।

निकलेश जैन

पिछले वर्ष जुलाई माह में हरिका ने अपनी पहली ग्रांड प्रिक्स जीतकर अपने विश्व विजेता बनने के इरादे  जाहिर किए थे 

 

पदमिनी नें भी नवंबर में लगातार अपनी तीसरी नेशनल चैंपियनशिप जीतकर अपनी लय एक बार पुनः हासिल कर ली थी 

हिजाब के विवाद की वजह से दूर है इस बार कुछ सितारे 

विश्व शतरंज में महिला वर्ग में मुस्लिम देशो में विश्व स्पर्धा के आयोजन के दौरान हिजाब पहनने का मुद्दा पिछले कुछ समय से ज़ोर शोरों से छाया हुआ हुआ है और कई बड़े खिलाड़ियों ने इसके खिलाफ अपनी आवाज उठाई है कई ऐसे भी है जिन्हे खेलने में कोई दिक्कत नहीं है खैर कहना होगा की शीर्ष स्तर पर प्रायोजको की कमी से जूझते फीडे के लिए विश्व चैंपियनशिप जैसी स्पर्धा अरब देशो में कराना ज्यादा आसान नजर आया है ऐसे में देखना होगा कैसे इन सब में खेल का नुकसान होने से बचाया जा सकता है ताकि हमारे खिलाड़ी सिर्फ खेल पर ध्यान लगा सके और शतरंज की जीत हो ।  

नाजी पकिद्ज़े नें सबसे पहले स्पर्धा से  अपना नाम हिजाब विवाद की वजह से वापस लिया 

विश्व नंबर 6 मारिया मुज़्यचुक नें यह कहते  हुए अपना नाम वापस ले लिया की उन्हे लगता है की ऐसी प्रतिष्ठित  स्पर्धा  आयोजित करने के लिए यह उचित देश नहीं है   

हाऊ ईफ़ान  वर्तमान विश्व महिला विजेता नें यह कहते हुए इससे अपना नाम वापस ले लिया की उनके हिसाब से नॉक आउट मैच कराकर विश्व चैम्पियन तय करना लौटरी निकालने जैसा है  जहां एक मैच हारने पर आपके बाहर होने  लगभग तय जैसा ही है 

पिछले वर्ष ग्रांड प्रिक्स में ईरान में खेल चुकी भारत की नंबर 1 महिला खिलाड़ी कोनेरु हम्पी नें बिना कोई कारण बताए अपना नाम वापस ले लिया और अभी तक कारण ज्ञात नहीं है हालांकि उन्होने भी एक बार हिजाब पहनकर खेलने में  अपनी नाखुशी जाहिर की थी 

खैर ग्रांड प्रिक्स विजेता और अगली विश्व चैंपियनशिप के लिए पहले ही अपनी जगह तय कर चुकी चीन की जु वेंजून ही  खिताब की सबसे मजबूत दावेदार है  


 

हिन्दी में शतरंज की सभी खबरे पढ़ने के लिए क्लिक करे - चेसबेस हिन्दी न्यूज़ पेज 

आपका दोस्त 

निकलेश जैन

अगर आप शतरंज किसी को सिखाना चाहते है तो आप मेरी किताब  शतरंज बिना कोई पैसे दिये हमारी शॉप से ले सकते है :

अपने खेल को बेहतर करने के लिए बेहतरीन सॉफ्टवेयर यंहा से खरीदें 

  अगर आप हिन्दी मे लेख /रिपोर्ट लिखना चाहते है तो मुझे ईमेल करे 

email address: nikcheckmatechess@gmail.com