chessbase india logo

प्रग्गानंधा नें जीता पोल्गर शतरंज , कार्लसन से खेलेंगे

by Niklesh Jain - 13/04/2021

भारत के 15 वर्षीय प्रग्गानंधा आर नें इतिहास रचते हुए एक ऐसा मौका अपनी मेहनत से प्राप्त किया है जो की शायद उनके खेल जीवन के लिए एक निर्णायक क्षण भी साबित हो सकता है । पोल्गर शतरंज में टीम क्रामनिक से खेल रहे प्रग्गानंधा नें चौंथे दिन चार राउंड में 3.5 अंक बनाकर 1.5 अंक के अंतर से 15.5 अंक बनाकर खिताब आसानी से अपने नाम कर लिया और परिणाम स्वरूप अब दो सप्ताह में उनके सामने मेल्टवाटर शतरंज में जब विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन होंगे तो यह सपने के सच हो जाने जैसा ही होगा । भारत के गुकेश और निहाल 14 अंक बनाकर क्रमशः तीसरे और चौंथे स्थान पर रहे जबकि लियॉन मेन्दोंसा 12 अंक बनाकर नौवे स्थान पर रहे । पढे यह लेख 

भारत के प्रग्गानंधा बने जूलियस बेर पोल्गर शतरंज विजेता

भारत के युवा ग्रांडमास्टर आर प्रग्गानंधा नें जूलियस बेर टूर के पहले पड़ाव पोल्गर शतरंज का खिताब जीतकर एक बार फिर अपनी प्रतिभा का लोहा पूरी दुनिया के सामने मनवा लिया । यह जीत बहुत मायने और इसीलिए रखती है क्यूंकी इससे अब उन्हे दो सप्ताह बाद मेल्टवाटर शतरंज मे विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन के साथ दुनिया के दिग्गज खिलाड़ियों से ऑनलाइन खेलने का मौका मिलेगा जो अपने आप मे बड़ी बात है । अंतिम दिन जब उन्होने आधा अंक की एकल बढ़त के साथ दिन की शुरुआत की तब उनके सामने बढ़त बनाए रखने की चुनौती थी पर उन्होने हमवतन मेन्दोंसा ल्यूक ,कजाकिस्तान की अब्दुमालिक ज़्हंसाया और ईरान की सरसा खदेमल्सरीह पर लगातार जीत और अंतिम राउंड मे उज्बेक्सितान के नोदिरबेक अब्दुसत्तारोव से ड्रॉ खेलकर बड़ी आसानी से 15.5 अंक बनाकर शानदार अंदाज मे खिताब हासिल कर लिया ।

नोदिरबेक , भारत के गुकेश डी , निहाल सरीन और रूस के मुरजिन वोलोदर 14 अंक बनाकर टाईब्रेक के आधार पर क्रमशः दूसरे से पांचवें स्थान पर रहे । भारत के एक अन्य खिलाड़ी लियॉन मेन्दोंसा 12 अंक बनाकर नौवे स्थान पर रहे । विश्व के  दुनिया के बेहतरीन 20 युवा खिलाड़ियों को दो पूर्व विश्व चैम्पियन ब्लादीमीर क्रामनिक और इतिहास की महानतम महिला खिलाड़ी जूडिथ पोलगर की टीम मे बांटा गया था जिसका खिताब जूडिथ की टीम नें 96.5 अंक बनाते हुए जीत लिया । क्रामनिक की टीम 88 अंक बना सकी ।

 

देखे सभी मुक़ाबले