chessbase india logo

शुभ दीवाली -दुनिया का सबसे प्राचीन उत्सव !!

by निकलेश जैन - 19/10/2017

शायद दुनिया की सबसे पुरानी सभ्यता का सबसे प्राचीन उत्सव ! दीवाली इसे आप भारत का ही नहीं दुनिया का भी सबसे पुराना उत्सव कह सकते है । यह असत्य पर सत्य की जीत का ,अंधेरे पर उजाले की जीत का उत्सव है । भारत के इस सबसे बड़े उत्सव पर चेसबेस इंडिया नें भारतीय शतरंज जगत के दिग्गज खिलाड़ियों से बात की और उनसे पूछा की कैसे  इस काले और सफ़ेद रंग के खेल नें उनके जीवन में उत्सव से रंग भरे है और उनके जबाब आपको भी रोमांच से भर देंगे की कैसे इतने वर्षो खेलने के बाद भी उनका खेल से जुड़ाव अद्भुत है ! तो इस खास मौके पर चेसबेस इंडिया भी लेकर आया आपके लिए कुछ शानदार उपहार !! पढे यह लेख । शुभ दीवाली !

वैसे तो यह त्यौहार भारत के हर धर्म और मान्यताओं के लोग मनाते है पर भारत मे दिवाली के पीछे जो कुछ खास कारण  है आइये उन पर एक छोटी सी नजर डालते है 

हिन्दुओ में भगवान राम ,उनकी पत्नी सीता और भाई लक्ष्मण के साथ 14 वर्ष के बाद आयोध्या वापसी पर लोगो नें उनका द्वीप जलाकर स्वागत किया था  और तब से यह त्यौहार यूं ही मनाया जाता है ऐसा माना जाता है 

"अहिंसा परमों धर्म "और "जियो और जीने दो "जैसे सिद्धान्त देने वाले जैन धर्म के 24वे और अंतिम तीर्थंकर महावीर स्वामी के मोक्ष निर्माण उत्सव के तौर पर यह उत्सव मनाया जाता है 

सिक्ख इसे अपने 6वे धर्मगुरु हरगोबिन्द जी की याद में मनाते है 

खैर इतिहास से अलग अब यह भारतवर्ष का त्योहार है जिसके आने से भाईचारे का माहौल और बेहतर होता है ,लोग आपस में एक दूसरे को शुभकामनाए देते है । और साथ ही कितने ही लोगो को रोजगार मिलता है ! उम्मीद है ये दीवाली आपके जीवन में भी बहुत सारा उजियारा लेकर आएगी !!

तो देखते क्या कहना है भारतीय शतरंज जगत की दिग्गज हस्तियों का इस मौके पर 

 

पाँच बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद 

"शतरंज ने मेरे (हमारे) जीवन में कुछ सबसे खूबसूरत क्षण दिए हैं। मुझे लगता है कि शतरंज में अब भी बहुत कुछ है सीखने के लिए और यह बात  इसे बहुत दिलचस्प बनाती है। दीवाली 2008 मेरे लिए विशेष थी  क्योंकि मैंने  बॉन में जीत दर्ज की थी और कुछ पत्रकार मेरे लिए भारतीय मिठाई इस उम्मीद के साथ लेकर आए थे कि वे मेरे साथ उत्सव मनाएंगे .मैं शायद दीवाली में घर पर नहीं रहूँगा । लेकिन यह एक सुंदर उत्सव का समय है, परिवार, मित्र , व्यंजन और उत्सव ।

सभी चेसबेस इंडिया के  पाठकों को दीवाली की शुभकामनाए  "

ग्रांड मास्टर पूर्व विश्व जूनियर चैम्पियन पेंटाला हरिकृष्णा 

"ये काले और सफेद मोहरे ही कारण है जिनकी वजह से मैं इतने सारे देशो की यात्रा कर सका हूँ  ,विभिन्न संस्कृतियों के इतने सारे लोगों से मिल सका हूँ  और इस प्रक्रिया में मुझे बहुत आनंद आया है। दीवाली की शुभकामनाए "

 

विश्व शतरंज की भारतीय सनसनी ग्रांड मास्टर भास्करन अधिबन 

"दीवाली भारत में सबसे ज्यादा मनाए जाने वाले त्यौहारों में से एक है और जब से मैं हर रोज शतरंज खेलना शुरू करता हूं, यह मुझे दिवाली की तरह ही लगता है!"

 

भारतीय के प्रशिक्षक ग्रांड मास्टर आरबी रमेश 

"मैं  जीवन में अधिकतर या तो शतरंज खिलाड़ी या फिर  शतरंज प्रशिक्षक रहा  हूँ इसलिए तो एक व्यक्ति के तौर पर शतरंज मेरे और मेरे दिमाग के सबसे महत्वपूर्ण हिस्से में स्थान रखता है । मैंने वर्षों से इस खेल से कई अच्छे मूल्यों को सीखा है और इसने मुझे पहले की तुलना में एक बेहतर व्यक्ति बनाया है.मेरी पत्नी आरती से भी मैं  शतरंज के माध्यम से मिला था, तो एक तरह से शतरंज ने मेरे जीवन में रंग भरे है और उजाले को शामिल किया है। "

 

 

पूर्व एशियन विजेता ग्रांड मास्टर सेथुरमन 

"काले और सफेद रंग बहुत ही यथार्थवादी रंग है जिसके द्वारा मैं अपने जीवन में और अधिक रंग भर पाया और जीवन का मतलब समझ पाया हूँ ।इस खेल के कारण ही मैं अलग-अलग स्थानों पर जाकर विभिन्न संस्कृतियों का अनुभव कर सकता हूं और बहुत दिलचस्प और नए लोगों से मिल पाता हूँ और विभिन्न अनुभव ले पाता हूँ , और फिर शतरंज खेलना मैं सबसे ज्यादा पसंद करता हूं। शतरंज के खेल में मुझे अंदरूनी तौर पर ऊपर उठाया है। "

 

ग्रांड मास्टर सन्दीपन चंदा 

"काले और सफेद रंग के भीतर आतिशबाजी हर रोज और अधिक रंगीन और चमकदार होती जा रही हैं"

 

ग्रांडमास्टर जीएन गोपाल 

Photo: Akshay Halagannavar

"शतरंज का खेल मुझे विभिन्न पहलुओं में मदद करता है। सबसे पहले और सबसे ज्यादा , यह मेरे अंदर अनुशासन और कड़ी मेहनत करने में मदद करता है।"

 

ग्रांडमास्टर एमएस तेजकुमार 

"काले और सफेद खेल ने मुझे एक अलग पहचान दी। जब लोग मुझे इसकी वजह से पहचानते हैं तो यह मेरे चेहरे और खुशी पर मुस्कुराहट लाता है। मुझे मेरा प्यार और मेरे ही शहर में नौकरी इसी  खेल की वजह से मिली। तो काले और सफ़ेद रंगो के इस खेल नें मेरे जीवन में रंग भर दिये । और मेरा जीवन रंगीन बन गया। "

दीवाली के इस शानदार मौके पर पेश है "द ग्रेट चेसबेस इंडिया सेल "

आप अपने पसंदीदा चेसबेस प्रोडक्ट पर ले सकते है बड़ी छूट

 

और ये कुछ इस तरह से है 

 

अगर आप खरीदते है  Rs. 1 to Rs. 1,000 तो आपको मिलेगी 10% छूट  + 10% छूट का कूपन अगली खरीदी के लिए 

Rs.1001 to Rs. 5,000 तो आपको मिलेगी  15% छूट  + 15%  छूट का कूपन अगली खरीदी के लिए

Rs. 5001 to Rs. 10,000 तो आपको मिलेगी 20% छूट  + 20%  छूट का कूपन अगली खरीदी के लिए

Rs. 10,001 and above तो आपको मिलेगी 25% छूट + 25%  छूट का कूपन अगली खरीदी के लिए

 

तो उदाहरण के तौर पर आप देख सकते है की आपको लगभग 12480 की खरीदी पर 25% प्रतिशत मतलब 2749 की छूट मिलेगी इतना ही नहीं अगली बार जब भी आप कुछ खरीदेंगे उस पर भी आपको 25% की ही छूट मिलेगी !

तो इस दिवाली बनाइये अपने इस मौके को खास और बढ़ाइए अपना एक कदम इस खेल की महारथी बनने की ओर 

 

देखे हमारी ऑनलाइन शॉप