chessbase india logo

दिल्ली 2017 :: निरंजन ग्रांड मास्टर नोर्म के करीब

by निकलेश जैन - 15/01/2017

लगभग 2000 खिलाड़ियों की प्रतिभागिता के नए इतिहास के साथ के 15 वां दिल्ली ओपन अब अपने अंतिम चरण में पहुँच गया है । अंतिम दों दिन यह तय करेंगे की इस बार खिताब कौन जीतेगा टॉप सीड तजकिस्तान के ग्रांड मास्टर अमोनटोव के सधे हुए खेल से वह खिताब के नजदीक पहुँच गए है । भारत के लिहाज से अच्छी खबर ये है की  भारत के तामिलनाडु के 81वी वरीयता प्राप्त निरंजन नवलगुंड नें अपने शानदार प्रदर्शन से सबका ध्यान अपनी ओर खींच रखा है आज उनके उलटफेर का शिकार हंगरी के ग्रांड मास्टर एडम होरवथ बने इसके साथ ही निरंजन अब 6.5 अंको के साथ संयुक्त दूसरे स्थान पर पहुँच गए है । निरंजन का इंटरनेशनल मास्टर नोर्म जहां तय हो चुका है वही कल का ड्रॉ उन्हे ग्रांड मास्टर नोर्म भी दिला सकेगा इसकी पूरी संभावना है । खैर इन सबके बीच वर्ग बी का खिताब महाराष्ट्र के सैराज नें अपने नाम किया साथ ही 2 लाख रुपेय का इनाम भी । वही वर्ग सी में 1100 खियालड़ियों की प्रतिभागिता नें दिल्ली ओपन को नयी ऊँचाइयाँ प्रदान की है । पढे ये लेख ..

 

अमोनटोव के कदम खिताब की ओर , भारत के निरंजन ने फिर किया उलटफेर

दिल्ली । टॉप सीड तजकिस्तान के ग्रांड मास्टर अमोनटोव फारुख नें आज काले मोहरो से उक्रेन के ग्रांड मास्टर विताली सुविक  को पराजित करते हुए अपनी बढ़त कायम रखी पर आज उनकी बढ़त आधे अंक की जगह अब एक अंक की हो गयी है क्यूंकी जहां वो 7.5 अंको के साथ पहले पादन पर है तो दूसरे स्थान पर 7 खिलाड़ी 6.5 अंको पर खेल रहे है ऐसे में जब सिर्फ दो राउंड ही बाकी है तो अगर अमोनटोव एक भी जीत दर्ज करते है तो उनका खिताब पर दावा ज्यादा मजबूत नजर आता है ।

 

उन्होने सिसिलियन ओपेनिंग में अपने मोहरो के शानदार तालमेल से अपने विरोधी को टिकने ही नहीं दिया और एक ओर शानदार जीत दर्ज की 
[Event "15th Parsvnath Delhi Open 2017"]
[Site "Delhi"]
[Date "2017.01.14"]
[Round "8"]
[White "Sivuk, Vitaly"]
[Black "Amonatov, Farrukh"]
[Result "0-1"]
[ECO "B54"]
[WhiteElo "2540"]
[BlackElo "2619"]
[Annotator "ChessBase"]
[PlyCount "100"]
[EventDate "2017.??.??"]
[EventType "swiss"]
[EventCountry "IND"]
[Source "ChessBase"]
[TimeControl "5400+30"]

1. e4 {375} c5 {5} 2. Nf3 {9} d6 {5} 3. d4 {10} cxd4 {5} 4. Nxd4 {5} Nf6 {7} 5.
f3 {8} e5 {18} 6. Nb3 {9} Nc6 {36} 7. Nc3 {464} Be7 {77} 8. Be3 {22} Be6 {43}
9. Nd5 {225} Bxd5 {261} 10. exd5 {8} Nb4 {2} 11. c4 {287} a5 {79} 12. Qd2 {46}
b6 {29} 13. Be2 {41} O-O {66} 14. O-O {6} Na6 {244} 15. Rac1 {149} Nh5 {377}
16. Kh1 {453} Nc5 {220} 17. Nxc5 {955} bxc5 {53} 18. Rc3 {35} f5 {134} 19. Rb3
{641} Bh4 {721} 20. g4 {522} fxg4 {175} 21. fxg4 {6} Rxf1+ {43} 22. Bxf1 {1}
Qf6 {10} 23. Qg2 {251} Nf4 {258} 24. Qe4 {109} Rf8 {76} 25. Bd2 {503} Ng6 {1111
} 26. Be2 {127} Bg5 {13} 27. Rf3 {53} Bf4 {40} 28. Be1 {75} Qg5 {295} 29. h3 {
150} Nh4 {282} 30. Bxh4 {283} Qxh4 {7} 31. Bd3 {8} g6 {57} 32. Kg2 {78} Kg7 {
317} 33. Bc2 {20} Rb8 {26} 34. b3 {32} Rf8 {64} 35. a4 {98} Qg5 {42} 36. Kf1 {
28} h5 {38} 37. gxh5 {60} Qxh5 {3} 38. Qe2 {51} Qg5 {199} 39. Be4 {142} Rh8 {
249} 40. Qg2 {107} Rh4 {66} 41. Qxg5 {143} Bxg5 {12} 42. Bc2 {3} Bf4 {154} 43.
Ke2 {12} Kf6 {7} 44. Be4 {21} g5 {63} 45. Kd3 {59} g4 {52} 46. hxg4 {4} Rxg4 {
80} 47. Rh3 {48} Rg1 {15} 48. Rh5 {62} Re1 {110} 49. Rf5+ {35} Kg7 {29} 50. Bg2
{15} Re3+ {15 Kd4} 0-1

 दूसरे बोर्ड पर राय लोपेज ओपनिंग में खेले गए भारत के ग्रांड मास्टर दीप्तयान घोष और 6वे राउंड तक सबसे आगे चल रहे ग्रांड मास्टर मुरली कार्तिकेयन के बीच मूकाबला बराबरी पर छूटा 

सफ़ेद मोहरो से खेल रहे कार्तिकेयन नें आज कल की हार के बाद सुरक्षित खेलना बेहतर समझा और 44 चाल के बाद मैच ड्रॉ रहा
[Event "15th Parsvnath Delhi Open 2017"]
[Site "Delhi"]
[Date "2017.01.14"]
[Round "8"]
[White "Karthikeyan, Murali"]
[Black "Ghosh, Diptayan"]
[Result "1/2-1/2"]
[ECO "C88"]
[WhiteElo "2564"]
[BlackElo "2570"]
[Annotator "ChessBase"]
[PlyCount "92"]
[EventDate "2017.??.??"]
[EventType "swiss"]
[EventCountry "IND"]
[Source "ChessBase"]
[TimeControl "5400+30"]

1. e4 {0} e5 {654} 2. Nf3 {0} Nc6 {6} 3. Bb5 {0} a6 {4} 4. Ba4 {0} Nf6 {4} 5.
O-O {3} Be7 {3} 6. Re1 {9} b5 {7} 7. Bb3 {6} d6 {4} 8. a4 {11} Bg4 {125} 9. c3
{14} O-O {5} 10. h3 Bxf3 {321} 11. Qxf3 {39} Na5 {2} 12. Bc2 {106} c5 {4} 13.
axb5 {458} axb5 {5} 14. d3 {74} Nd7 {527} 15. Nd2 {329} Bg5 {199} 16. Nf1 {181}
Bxc1 {15} 17. Rexc1 {2} Nc6 {403} 18. Ne3 {341} Ne7 {306} 19. Bb3 {562} Nb6 {
151} 20. h4 {479} Rxa1 {629} 21. Rxa1 {3} Qc7 {26} 22. Ra5 {1021} c4 {83} 23.
Ba2 {540} Qc6 {544} 24. dxc4 {590} bxc4 {92} 25. h5 {128} h6 {166} 26. Ra7 {73}
Nbc8 {89} 27. Ra5 {52} Nb6 {5} 28. Ra7 {390} Nbc8 {3} 29. Ra3 {29} Nb6 {13} 30.
b4 {76} cxb3 {139} 31. Bxb3 {7} Qc5 {250} 32. Ra7 {213} Nbc8 {650} 33. Rd7 {136
} Qb5 {272} 34. Bxf7+ {9} Kh8 {1} 35. Bc4 {169} Qb1+ {4} 36. Qd1 {7} Qxe4 {3}
37. Bd3 {86} Qh4 {326} 38. Qe2 {92} e4 {100} 39. Bc2 {37} Ng8 {269} 40. Qg4 {
267} Qxf2+ {27} 41. Kh1 {38} Nce7 {55} 42. Qxe4 {47} Nf6 {41} 43. Qd3 {34} Qe1+
{65} 44. Nf1 {8} Nc6 {45} 45. Rxg7 {51} Kxg7 {76} 46. Qg6+ {2} Kh8 {1} 1/2-1/2

7 राउंड के बाद भारत के लिए एक और अच्छी खबर युवा खिलाड़ी निरंजन नवलगुंड की तरफ से मिली जहां उन्होने अपना पहला जीएम नोर्म लगभग हासिल कर लिया है 

जबरजस्त लय में चल रहे निरंजन  के लिए कल रविवार का दिन काफी अहम दिन साबित होगा 
[Event "15th Parsvnath Delhi Open 2017"]
[Site "Delhi"]
[Date "2017.01.14"]
[Round "8"]
[White "Horvath, Adam"]
[Black "Navalgund, Niranjan"]
[Result "0-1"]
[ECO "C49"]
[WhiteElo "2499"]
[BlackElo "2207"]
[Annotator "ChessBase"]
[PlyCount "108"]
[EventDate "2017.??.??"]
[EventType "swiss"]
[EventCountry "IND"]
[Source "ChessBase"]
[TimeControl "5400+30"]

1. e4 {0} e5 {6} 2. Nf3 {0} Nc6 {4} 3. Nc3 {0} Nf6 {13} 4. Bb5 {6} Bb4 {7} 5.
O-O {31} O-O {9} 6. d3 {6} d6 {5} 7. Ne2 {60} Ne7 {17} 8. c3 {8} Ba5 {19} 9.
Ng3 {14} Ng6 {8} 10. d4 {59} Bb6 {23} 11. Be3 {1908} d5 {259} 12. Nxe5 {201}
Nxe5 {73} 13. dxe5 {5} Nxe4 {21} 14. Nxe4 {793} dxe4 {46} 15. Bf4 {805} Qh4 {
1339} 16. Bg3 {378} Qg5 {139} 17. Kh1 {99} Bf5 {418} 18. Qe1 {133} f6 {699} 19.
a4 {349} a5 {715} 20. Bc4+ {211} Kh8 {10} 21. Bd5 {47} e3 {623} 22. Bxb7 {354}
Rab8 {304} 23. Bc6 {321} fxe5 {82} 24. Bb5 {200} c6 {113} 25. Bc4 {59} Bg6 {241
} 26. f3 {58} Rbe8 {288} 27. Rd1 {36} e4 {53} 28. f4 {27} Qc5 {16} 29. b3 {30}
Rd8 {25} 30. Bh4 {40} Rd3 {164} 31. Qe2 {33} Qd6 {247} 32. g4 {19} Rxf4 {79}
33. Bg3 {41} Rxf1+ {10} 34. Rxf1 {5} Qd8 {25} 35. Bh4 {14} Qd6 {26} 36. Bg3 {51
} Qe7 {35} 37. Bh4 {46} Qe8 {2} 38. Qg2 {58} Bc7 {45} 39. Be1 {33} e2 {69} 40.
Qxe2 {10} Rh3 {2} 41. Kg1 {34} Rxh2 {98} 42. Qe3 {4} Bd6 {73} 43. Qd4 {68} Qe7
{13} 44. b4 {11} e3 {48} 45. Bd3 {51} Bxd3 {50} 46. Qxd3 {4} Qe5 {11} 47. Rf5 {
48} Rh1+ {21} 48. Kg2 {3} Qh2+ {9} 49. Kf3 {4} Rxe1 {16} 50. Ke4 {15} Qh1+ {25}
51. Rf3 {4} Rd1 {59} 52. Qa6 {7} Be7 {77} 53. Qxc6 {43} Rd8 {8} 54. Qc7 {68} e2
{23} 0-1

पूर्व तामिलनाडु निरंजन पिछले कुछ दिनो से खेल के अलावा अपनी लिखी किताबों की वजह से  भी चर्चा में रहे है चेसबेस सावंददाता जितेंद्र चौधरी नें उनसे खास बातचीत की 

। 81 वी वरीयता प्राप्त निरंजन नें आज भी उलटफेर करते हुए 13वी वरीयता प्राप्त हंगरी के ग्रांड मास्टर एडम होरवथ को पराजित कर सयुंक्त दूसरे स्थान पर छलांग लगा ली कल वो पूर्व दिल्ली ओपन विजेता रह चुके उज्बेकिस्तान के डी मरात से मुक़ाबला खेलेंगे ।

          उज्बेकिस्तान के अनुभवी ग्रांड मास्टर डी मारत नें आज इटली के ग्रांड मास्टर डेविड अल्बर्टो को पराजित किया 

[Event "15th Parsvnath Delhi Open 2017"]
[Site "Delhi"]
[Date "2017.01.14"]
[Round "8"]
[White "Dzhumaev, Marat"]
[Black "David, Alberto"]
[Result "1-0"]
[ECO "B03"]
[WhiteElo "2457"]
[BlackElo "2569"]
[Annotator "ChessBase"]
[PlyCount "67"]
[EventDate "2017.??.??"]
[EventType "swiss"]
[EventCountry "IND"]
[Source "ChessBase"]
[TimeControl "5400+30"]

1. e4 {424} Nf6 {5} 2. e5 {30} Nd5 {5} 3. c4 {90} Nb6 {5} 4. d4 {13} d6 {9} 5.
f4 {7} dxe5 {224} 6. fxe5 {11} Bf5 {82} 7. Nc3 {38} e6 {40} 8. Be3 {199} Nc6 {
149} 9. Be2 {353} Be7 {150} 10. Nf3 {10} O-O {6} 11. O-O {22} f6 {35} 12. exf6
{1096} Bxf6 {34} 13. Qd2 {257} Qe7 {1018} 14. Rad1 {359} Rad8 {27} 15. Qc1 {200
} Kh8 {325} 16. h3 {83} Bg6 {84} 17. b3 {376} Rd7 {946} 18. d5 {1099} exd5 {958
} 19. Nxd5 {10} Nxd5 {4} 20. cxd5 {16} Nb4 {2} 21. Bc5 {75} Qxe2 {13} 22. Bxf8
{12} Nd3 {9} 23. Qc4 {253} Qe3+ {568} 24. Kh2 {739} a6 {871} 25. Ba3 {73} h5 {
487} 26. Bc1 {52} Qe4 {45} 27. Bg5 {273} Be5+ {40} 28. Nxe5 {25} Qxe5+ {10} 29.
Bf4 {5} Qe2 {114} 30. Rde1 {65} Qxa2 {25} 31. Re6 {10} Bf7 {35} 32. Bg3 {37}
Qd2 {32} 33. d6 {34} c6 {31} 34. Rxf7 {9} 1-0

इंटरनेशनल मास्टर सप्तर्षि रॉय भी आज जीत दर्ज कर सयुंक्त दूसरे स्थान पर पहुँच गए 
[Event "15th Parsvnath Delhi Open 2017"]
[Site "Delhi"]
[Date "2017.01.14"]
[Round "8"]
[White "Saptarshi, Roy"]
[Black "Czebe, Attila"]
[Result "1-0"]
[ECO "B06"]
[WhiteElo "2418"]
[BlackElo "2491"]
[Annotator "ChessBase"]
[PlyCount "118"]
[EventDate "2017.??.??"]
[EventType "swiss"]
[EventCountry "IND"]
[Source "ChessBase"]
[TimeControl "5400+30"]

1. e4 {7} g6 {38} 2. d4 {24} Bg7 {4} 3. Nc3 {27} Nc6 {10} 4. d5 {70} Nb8 {4} 5.
Be3 {35} d6 {17} 6. Qd2 {87} c6 {32} 7. Nf3 {297} Nf6 {293} 8. h3 {103} O-O {69
} 9. O-O-O {135} b5 {330} 10. dxc6 {1366} b4 {44} 11. Nd5 {126} Nxc6 {11} 12.
Nxf6+ {45} Bxf6 {7} 13. Nd4 {68} Bb7 {860} 14. f3 {77} Qa5 {651} 15. Kb1 {335}
Rac8 {35} 16. h4 {122} Nxd4 {107} 17. Bxd4 {6} Bxd4 {154} 18. Qxd4 {17} e5 {35}
19. Qd2 {76} d5 {135} 20. Bd3 {137} dxe4 {127} 21. fxe4 {4} f5 {57} 22. Qh6 {
239} fxe4 {103} 23. Bc4+ {46} Rxc4 {3} 24. Rd7 {4} Rf7 {10} 25. Rxf7 {21} Kxf7
{1} 26. Qxh7+ {15} Ke6 {1} 27. Qg8+ {86} Ke7 {14} 28. Qg7+ {190} Kd6 {149} 29.
Qxb7 {136} Qb6 {585} 30. Qf7 {568} Kc5 {191} 31. h5 {74} gxh5 {44} 32. Rxh5 {
120} Qd6 {16} 33. Qxa7+ {22} Kb5 {24} 34. Qb7+ {125} Ka5 {14} 35. Rh1 {264} Rd4
{254} 36. Rc1 {176} Qb6 {587} 37. Qa8+ {236} Qa6 {4} 38. Qxa6+ {119} Kxa6 {3}
39. c3 {32} Rd2 {388} 40. cxb4 {34} Rxg2 {63} 41. Rc3 {259} Kb6 {349} 42. a3 {
18} Rf2 {4} 43. Rc5 {190} Rf5 {53} 44. Kc2 {40} Rh5 {46} 45. Kd2 {52} Rh2+ {49}
46. Kc3 {41} Rh5 {5} 47. a4 {100} e3 {39} 48. a5+ {17} Ka6 {38} 49. Kd3 {171}
Rh4 {145} 50. Rxe5 {79} Rxb4 {18} 51. Kc3 {4} Ra4 {311} 52. b4 {4} Ra3+ {50}
53. Kc4 {12} Kb7 {5} 54. Kd4 {75} Rb3 {19} 55. b5 {96} Kc7 {332} 56. Kc4 {88}
Ra3 {4} 57. Kb4 {8} Rd3 {59} 58. a6 {11} Kd6 {46} 59. Re8 {32} Kd5 1-0

बंगलादेशी दिग्गज नियाज मुर्शिद को पराजित कर स्वयं मिश्रा नें भी सयुंक्त दूसरे स्थान पर अपना नाम भी दर्ज कराया 
[Event "15th Parsvnath Delhi Open 2017"]
[Site "Delhi"]
[Date "2017.01.14"]
[Round "8"]
[White "Swayams, Mishra"]
[Black "Murshed, Niaz"]
[Result "1-0"]
[ECO "D38"]
[WhiteElo "2491"]
[BlackElo "2444"]
[Annotator "ChessBase"]
[PlyCount "76"]
[EventDate "2017.??.??"]
[EventType "swiss"]
[EventCountry "IND"]
[Source "ChessBase"]
[TimeControl "5400+30"]

1. d4 {318} d5 {13} 2. c4 {10} e6 {5} 3. Nf3 {82} Nf6 {6} 4. Nc3 {2} Bb4 {8} 5.
Qa4+ {12} Nc6 {11} 6. e3 {20} O-O {557} 7. Bd2 {9} dxc4 {73} 8. Bxc4 {4} a6 {11
} 9. a3 {452} Bd6 {27} 10. Qc2 {35} Bd7 {859} 11. O-O {488} e5 {398} 12. d5 {58
} Ne7 {13} 13. e4 {31} b5 {159} 14. Be2 {115} h6 {63} 15. Rfd1 {392} Qb8 {324}
16. h3 {315} Rc8 {620} 17. Qd3 {481} c6 {184} 18. dxc6 {304} Rxc6 {6} 19. Nh4 {
47} Be6 {447} 20. Qf3 {304} b4 {373} 21. axb4 {171} Bxb4 {7} 22. Rdc1 {836} Rd6
{602} 23. Bxh6 {815} gxh6 {875} 24. Qxf6 {8} Bxh3 {20} 25. Qf3 {90} Bxc3 {34}
26. bxc3 {150} Bd7 {44} 27. Bc4 {241} Be6 {68} 28. Bf1 {44} a5 {329} 29. Qg3+ {
36} Kh7 {6} 30. Qxe5 {5} a4 {8} 31. Nf5 {197} Bxf5 {111} 32. exf5 {26} Nc6 {30}
33. Qe4 {11} a3 {59} 34. Rcb1 {193} Qd8 {34} 35. Rb7 {26} Qf6 {23} 36. Bc4 {68}
Ne5 {29} 37. Bxf7 {30} Kh8 {42} 38. Bg6 {65} a2 {39} 1-0

राउंड 8 के बाद स्थिति 

Rk. SNo     Name Rtg Pts.  TB1   TB2   TB3 
1 1   GM Amonatov Farrukh 2619 7,5 0,0 38,0 34,0
2 81     Navalgund Niranjan 2207 6,5 0,0 41,5 36,0
3 5   GM Karthikeyan Murali 2564 6,5 0,0 39,5 35,5
4 21   IM Visakh N R 2453 6,5 0,0 39,0 34,5
5 15   IM Swayams Mishra 2491 6,5 0,0 38,5 34,0
6 3   GM Ghosh Diptayan 2570 6,5 0,0 37,0 32,5
7 29   IM Saptarshi Roy 2418 6,5 0,0 35,5 32,0
8 20   GM Dzhumaev Marat 2457 6,5 0,0 33,0 29,0
9 22   GM Nguyen Huynh Minh Huy 2448 6,0 0,0 39,0 35,0
10 8   GM Sivuk Vitaly 2540 6,0 0,0 36,5 32,5
11 2   GM Lalith Babu M R 2587 6,0 0,0 36,0 31,5
12 73     Aradhya Garg 2230 6,0 0,0 35,5 32,0
13 6   GM Sunilduth Lyna Narayanan 2541 6,0 0,0 35,0 31,0
14 12   GM Deviatkin Andrei 2499 6,0 0,0 35,0 31,0
15 9   GM Tukhaev Adam 2516 6,0 0,0 32,5 29,0

 


619 खिलाड़ियों वाला बी वर्ग सम्पन्न और 1100 खिलाड़ियों वाला वर्ग सी आरंभ 

महाराष्ट्र के सैराज  चित्तल नें केटेगरी बी वर्ग जीतते  हुए 2 लाख रुपेय के पुरुष्कार पर अपना कब्जा जमाया । गुजरात के उदित कामदार दूसरे स्थान पर रहे और उन्हे 1.5 लाख रुपे का पुरुष्कार मिला वही उड़ीसा की श्रद्धांजली जेना नें तीसरे स्थान और 1 लाख रुपेय की पुरुष्कार राशि अपने नाम की 

फ़ाइनल रैंकिंग वर्ग - बी 

Rk. SNo   Name Typ sex FED Rtg Club/City Pts.  TB1   TB2   TB3 
1 13   Chittal Sairaj     IND 1956 Mah 9,0 64,0 58,5 60,00
2 3   Kamdar Udit     IND 1984   8,5 61,0 55,5 55,25
3 68   Sradhanjali Jena   w IND 1864 Ori 8,5 60,5 56,0 53,75
4 50   Shubham Lakudkar     IND 1894 Mah 8,5 60,0 54,5 54,50
5 5   Mohite Ranveer     IND 1979 Mah 8,5 58,5 53,5 53,25
6 48   Sumit Kumar     IND 1897 Wes 8,5 57,5 52,5 50,75
7 10   Lakshmi Krishna Bhushan D     IND 1964   8,0 60,0 54,5 50,50
8 49   Shubham     IND 1894 Del 8,0 60,0 54,5 50,00
9 1 CM Amini Habibullah     AFG 1999   8,0 59,5 54,5 50,50
10 70   Vinodh Kumar B.     IND 1859 Pon 8,0 58,5 53,5 47,75
क्या आप यकीन करेंगे दिल्ली ओपन के वर्ग सी में 1100 खिलाड़ी इस शह और मात के खेल को खेल रहे है 
वर्ग सी में अपना नाम खोज  लेना कोई आसान काम नहीं 
और जब खिलाड़ियों की संख्या ज्यादा बढ़ जाए तो दूसरे हाल का इंतजाम तो करना हो होगा 
बिना जांच और अनुमति आपकी कार भी अंदर नहीं आ सकती 
और अगर आपको गाड़ी अंदर लगानी है तो आपके पास आयोजको का दिया पास जरूर होना चाहिए 
दिल्ली सरकार की इमरजेंसी मेडिकल सेवा पूरे समय यहाँ मौजूद रहती है 
अभिभावकों से ज्यादा मेहनत शायद ही कोई करता हो 

फीडे आर्बिटर सेमिनार 

 

इंटरनेशनल आर्बिटर प्रोफेसर अनन्तराम और गोपाकुमार फीडे आर्बिटर सेमिनार के मुख्य वक्ता रहे । दिल्ली शतरंज संघ के सचिव अजीत वर्मा मुख्य आयोजक थे , भारत के 59 राष्ट्रीय निर्णायकों नें फीडे आर्बिटर के लिए यहाँ ना सिर्फ पढ़ाई की बल्कि परीक्षा भी दी । तमिलनाडू से सर्वाधिक 17 लोगो नें भाग लिया भारत के बाहर से भी दुबई से एक महिला प्रतिभागी नें इसमें भाग लिया । कार्यक्रम के समन्वयक फीडे आर्बिटर जितेंद्र चौधरी रहे । 

शालीमार बाग में स्थित प्रिमियर इन होटल में यह आयोजन सम्पन्न हुआ
एआईसीएफ़ सीईओ भारत सिंह चौहान नें  सेमिनार का उदघाटन किया 

फीडे आर्बिटर सेमिनार की परीक्षा 12 जनवरी को हुई और एक हफ्ते में परिणाम आएंगे उम्मीद है सभी अच्छे नंबर से पास हो जाएंगे ! शुभकामनाए !

कम से कम शतरंज में तो महिलाओं की प्रतिभगिता तेजी से बढ़ रही है