chessbase india logo

एक नयी सोच :: माँ का नाम भी तो उतना ही जरूरी है !

by निकलेश "क्रांति "जैन - 17/10/2016

माँ हम सबके के अंदर गहराई तक समाया हुआ एक एहसास है ,माँ शब्द सुनकर ही जैसे शरीर में ऊर्जा की लहर दौड़ जाती है ,आप कितनी भी परेशानी में हो माँ का नाम ही बहुत होता है दोबारा उठ खड़े होने के लिए । माँ से हर बात बांटी जा सकती है ,आप कुछ भी करो उसकी दुआएं हमेशा साथ होती है ,एक माँ ही है जिससे बिना शर्त समर्थन की उम्मीद करते है ।! हर एक खिलाड़ी की सफलता के पीछे उसकी माँ का विशेष योगदान होता है । एक शतरंज खिलाड़ी के लिए उसकी माँ का का योगदान और बड़ा हो जाता है क्यूंकी अधिकतर वो ही उन्हे टूर्नामेंट खिलाने ले जाती है । भारतीय क्रिकेट टीम के सितारे धोनी ,विराट और अजिंक्य ने स्टार प्लस के साथ मिलकर माँ को समर्पित एक मुहिम चलाई है- माँ का नाम भी जरूरी है उतना ही जितना पिता का  । चेसबेस इंडिया परिवार भी इस मुहिम का समर्थन करता है । इस लेख को पढे और अपनी माँ के साथ अपनी फोटो हमें भेजे और आप सभी की  दास्तां को हम चेसबेस पर प्रकाशित करेंगे ! !!

 

अभियान के तहत स्टार प्लस ने तीन शानदार अलग-अलग विज्ञापन भी बनाया है. एक विज्ञापन में महेंद्र सिंह धोनी एक ऐसी जर्सी पहनते हुए नज़र आते हैं जिसमें उनकी मां देवकी का नाम लिखा हुआ होता है. जब संवाददाता इसके पीछे खास वजह को लेकर सवाल करता है तो धोनी जवाब देते हैं, ''मैं इतने सालों से अपना पिता के नाम की जर्सी पहन रहा था तब तो आप ने कभी नहीं पूछा कि कोई खास वजह?'' 

सारी दुनिया जानती है की पाँच बार के विश्व चैम्पियन आनंद को शतरंज उनकी माँ स्वर्गीय श्रीमती सुशीला विश्वनाथन नें सिखाया था आपको सादर नमन !! 

लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती
बस एक माँ है जो मुझसे ख़फ़ा नहीं होती (मुनव्वर राणा)  

ग्रांड मास्टर कोनेरु हम्पी  के लिए जितना बलिदान उनके पिता नें दिया है उतना ही उनकी माँ श्रीमति लथा अशोक ने भी किया है 

मुझे बस इस लिए अच्छी बहार लगती है
कि ये भी माँ की तरह ख़ुशगवार लगती है (मुनव्वर राणा)

 आज हरिका विश्व नंबर 5 हो गयी है इसमें उनकी माँ का बड़ा श्रीमति स्वर्णा का बड़ा योगदान है 

ऐ अँधेरे! देख ले मुँह तेरा काला हो गया
माँ ने आँखें खोल दीं घर में उजाला हो गया (मुनव्वर राणा)

हमें लगातार शानदार फोटो भेजने वाली महिला खिलाड़ी अमृता मोकल के जीवन की उपलब्धियाँ भी उनकी माँ श्री मति प्राची मोकल से प्रेरित है 

कुछ नहीं होगा तो आँचल में छुपा लेगी मुझे
माँ कभी सर पे खुली छत नहीं रहने देगी (मुनव्वर राणा)

 ग्रांड मास्टर  परिमार्जन नेगी अपनी माँ श्री मति परिधि नेगी के साथ

एक के बाद एक जीत दर्ज कर रहे ग्रांड मास्टर स्वप्निल धोपड़े के पीछे के पुरुष्कार उनकी माँ श्रीमति हेमा धोपड़े जी की वजह से ही तो है ,हमने जैसे ही स्वप्निल से संपर्क किया तो खाना बनाने में व्यस्त माँ के साथ उन्होने झट से एक फोटो हमे भेजा आपको सादर प्रणाम !!
दुआएँ माँ की पहुँचाने को मीलों मील जाती हैं
कि जब परदेस जाने के लिए बेटा निकलता है (मुनव्वर राणा)

चेसबेस इंडिया के संस्थापक और मेरे दोस्त सागर शाह अपनी माँ श्रीमति जयश्री शाह के साथ । आज सुबह जब मैंने उन्हे अपने लेख के बारे में बताया सागर ने तुरंत मुझे ये फोटो भेज दिया

आज सागर की सफलता के पीछे उनकी माँ के समर्थन और संस्कारो का बड़ा योगदान है और शानदार लाजबाब खाने का भी !! सादर प्रणाम उनको !! 

भारत के शैलेश नरलेकर आपके मेरे हम सब के लिए एक मिशाल है कभी हार ना मानने की भारत के महाराष्ट्र के रहने वाले शैलेश खुद से सिर्फ बोल सकते है और अपना हाथ हिला सकते है पर
अगर आज वो यह खेल पाये तो इसके पीछे
उनकी माँ का ही योगदान सबसे ज्यादा है !उनकी माँ श्रीमति सरला नरलेकर के जज्बे को भी नमन ! 

ऐ अँधेरे! देख ले मुँह तेरा काला हो गया
माँ ने आँखें खोल दीं घर में उजाला हो गया  (मुनव्वर राणा)

विश्व के वर्तमान सबसे युवा ग्रांड मास्टर आर्यन चोपड़ा की इस उपलब्धि में उनकी माँ का विशेष योगदान है , महज तीन साल के आर्यन लंदन में अपनी माँ श्रीमति ममता चोपड़ा के साथ 

 मेरे दोस्त और खिलाड़ी चेसबेस लेखक अतुल दहाले अपनी माँ श्रीमति रंजना दहाले के साथ 

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ
माँ से इस तरह लिपट जाऊँ कि बच्चा हो जाऊँ- (मुनव्वर राणा)

मैं आज जो कुछ भी हूँ अपनी माँ के समर्थन ,संस्कारो और प्यार की वजह से हूँ मेरी माँ श्रीमति क्रांति जैन  नें हमेशा मुझे सही रास्ते पर चलना सिखाया उन्हे सादर नमन और उन पर लिखी मेरी ये दो पंक्तियाँ 

जाने तू मेरे चेहरे को ऐसे कैसे पढ़ लेती है

मैं तो अब तक इस दुनिया में एक भी चेहरा ना पढ़ पाया 

 

 

विराट कोहली की जर्सी में उनकी मां का नाम सरोज लिखा हुआ है. इस पर विराट कोहली यह कहते हुए नज़र आ रहे हैं, ''आप सोचते होंगे यह नाम किसका है, मेरा ही है,आज मैं जो भी हूं, मम्मी के वजह से तो हूं तो जाहिर सी बात है मेरी पहचान भी सिर्फ पापा के नाम से ही क्यों? जितना कोहली हूं, सरोज भी हूं, है की नहीं.''

 

 

अजिंक्‍य रहाणे की जर्सी के पीछे उनकी मां सुजाता का नाम लिखा हुआ है और रहाणे यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं, ''जब मैं छोटा था तब मेरी मां मेरी किटबैग उठती थी, और मेरे छोटे भाई को गोदी में उठाकर रोज़ मुझे प्रैक्टिस में लेकर जाती थी, मेरी प्रैक्टिस भी उनकी कसरत बन जाती थी, लोग कहते है बाप का नाम रोशन करो लेकिन मेरे लिए मां नाम भी रोशन करना इतना ही इम्पोर्टेन्ट है.''

 

आप अपनी माँ के साथ अपना एक फोटो हेश टैग   #chessmom के साथ ट्विटर ,फेसबुक  और इन्सटाग्राम पर लगाए साथ ही हमे @chessbaseindia को टैग करे और यह भी लिखे की आपकी माँ नें कैसे आपको खिलाड़ी बनने में मदद की । आप सभी की  दास्तां को हम चेसबेस पर प्रकाशित करेंगे ! आप चाहे तो नीचे भी अपने विचार लिख सकते है 

 

 

Post a picture with your mother with the hashtag #chessmom on Facebook, Twitter and Instagram. And tag @chessbaseindia in the post. Write in the post how your mother helped you to become a chess player.

You can follow ChessBase India on Twitter and Instagram, like our Facebook Page

आपका दोस्त 

निकलेश "क्रांति " जैन 

अगर आप हिन्दी मे लेख /रिपोर्ट लिखना चाहते है तो  ईमेल करे 
email address: nikcheckmatechess@gmail.com