chessbase india logo

पंजाब शतरंज को नई ऊँचाइयाँ दे रहे अभिजय चोपड़ा

by Niklesh Jain - 11/05/2018

पंजाब शतरंज को बढ़ावा देते और नशे को समाप्त करने के उद्देश्य से शतरंज को माध्यम बनाकर सामने लाने वाले पंजाब केसरी समूह के युवा डायरेक्टर अभिजय चोपड़ा को अब पंजाब शतरंज संघ नें उनके खेल को नयी ऊँचाइयाँ देने के प्रयासो के लिए संरक्षक सदस्य घोषित करते हुए सम्मानित किया है । आपको बता दे की उनके निर्देशन में पंजाब केसरी हर माह बच्चो से लेकर बड़ो तक के लिए शतरंज प्रतियोगिता का आयोजन करता है जहां उन्हे हर तरह की निः शुल्क सुविधा तो दी ही जाती है साथ ही साथ प्रतियोगिता का कोई शुल्क नहीं होता पुरुष्कार स्वरूप खिलाड़ियों को उनके खेल के विकास के लिए कभी सॉफ्टवेयर तो कभी किताबे तो कभी ट्रेनिंग चेसबेस अकाउंट दिये जाते है । आइये जानते है क्या हो रहा है पंजाब शतरंज में और अभिजय की सोच क्या पंजाब शतरंज के साथ साथ भारतीय शतरंज के लिए भी एक नया आयाम है । 

पंजाब केसरी  समूह के युवा निर्देशक नें पंजाब को ड्रग्स से बचाने के लिए शतरंज खेल को माध्यम के रूप मे चुना है  वह मानते है की शतरंज की एकाग्रता के जरिये वह युवाओं को नशे का आदि बनने से रोक सकते है । पंजाब केसरी पहला राष्ट्रीय समाचार पत्र है जिसमें खेल पेज पर शतरंज की खबरों को प्रमुखता से स्थान दिया जाता है । साथ ही अब हर माह पंजाब केसरी शतरंज चैंपियनशिप का अनोखा आयोजन अपनी निशुल्क प्रवेश के लिए खासा चर्चा में बना हुआ है और प्रतिभाओं को तराशने का काम कर रहा है । तो आइये मिलते है एक ऐसी शख्सियत से जो भारत को शतरंज का सुपर पावर बने देखना चाहते है  !

पढे उनके इंटरव्यू पर आधारित चेसबेस इंडिया का 30 नवंबर 2011 का यह लेख !

पंजाब केसरी समूह हर माह जालंधर में जिस प्रतियोगिता का आयोजन करता है अब तक उसके 9 संस्करण सम्पन्न हो चुके है और अब यह प्रतियोगिता जालंधर के अलावा लुधियाना , अमृतसर और पटियाला में भी आयोजित होंगी इस संबंध में पंजाब केसरी समूह और पंजाब राज्य शतरंज नें एक रूप रेखा भी तैयार कर ली है 

अभिजय चोपड़ा जी के शतरंज के खेल के योगदान को देखते हुए उन्हे पंजाब शतरंज संघ नें अपना संरक्षक सदस्य घोषित किया बल्कि उन्हे सम्मानित भी किया

उम्मीद है अभिजय चोपड़ा जी यूं ही शतरंज खेल को आगे बढ़ाने और नई ऊंचाइयों में ले जाने का यह कार्य सामाजिक बेहतरी से जोड़कर करते रहेंगे !

पंजाब शतरंज संघ के द्वारा दिया गया सम्मान पत्र 

नवंबर 2017 में उन्होने चेसबेस इंडिया को इंटरव्यू दिया था ! देखे 

क्या यह कोई सामान्य नंबर है !! 5 और 6 मई को हुई प्रतियोगिता में जालंधर शहर के 400 नन्हें बच्चो नें  प्रतिभागिता की !

 

चेसबेस इंडिया भी अभिजय जी की सोच और पंजाब केसरी की इस मुहिम में उनके साथ है और पिछले तीन टूर्नामेंट से खिलाड़ियों को विश्व स्तरीय सॉफ्टवेयर और किताबे पंजाब केसरी के सहयोग से खिलाड़ियों को पुरुष्कार दी जा रही है जिसमें चेसबेस इंडिया भी अपना योगदान देकर बेहद गौरव का अनुभव करता है 

विश्व प्रसिद्ध ट्रेनर आर्टर यसुपोव की प्रसिद्ध किताब जालंधर के विजेताओं को दी गयी 

अगले माह 16-17-18 जून को जालंधर में होने जा रही पंजाब केसरी शतरंज स्पर्धा के 10वे संस्करण के मौके पर इंटरनेशनल मास्टर सागर शाह और पूर्व नेशनल अंडर 16 गर्ल्स चैम्पियन अमृता मोकल भी मौजूद रहेंगे तो अगर आप जालंधर से है तो अपना और अपने बच्चे का नाम इस स्पर्धा में दर्ज करानाए ना भूले 

पंजाब केसरी भारत का एकमात्र ऐसा समाचार पत्र है जहां प्रतिदिन शतरंज की खबरे प्रमुखता से प्रकाशित की जाती है 


Related news: