chessbase india logo

अक्षयकल्पा कर्नाटक चैंपियनशिप - एक नयी सुबह !

by Niklesh Jain - 16/04/2018

यकीन मानिए 14 अप्रैल 2018 ना सिर्फ कर्नाटक बल्कि भारतीय शतरंज जगत के लिए एक नया इतिहास रचने वाला दिन था । कर्नाटक की एक दूध का उत्पादन करने वाली संस्था अक्षयकल्पा नें शतरंज जैसे खेल से बच्चो के जीवन पर पड़ने वाले प्रभाव को समझते हुए कर्नाटक राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में एक विश्व स्तरीय बदलाव लाने का संकल्प लिया और यह कोई साधारण प्रयास नहीं था इसकी व्यापकता आप इसी से समझ सकते है की प्रतियोगिता की पुरुष्कार राशि 10 लाख रुपेय है मैच के लिए विश्व स्तरीय इंतजाम किए गए है । खेल का सीधा प्रसारण किया जा रहा है , तरह तरह के सेमिनार आयोजित किए जा रहे । और एक बड़ा कदम ब्लाईंड शतरंज के बादशाह किशन गांगुली अब  अक्षयकल्पा के ब्रांड प्रतिनिधि बनाए गए है और अब किशन उनके सहयोग से विश्व चैम्पियन बनने का अपना सपना जरूर पूरा करेंगे , चेसबेस इंडिया की टीम इस आयोजन का हिस्सा बन कर गर्व महसूस कर रही है । शुरुआती चार राउंड के बाद सभी प्रमुख खिलाड़ी आसानी से आगे बढ्ने में कामयाब रहे है । 

 

 

वैसे तो 1000 से ज्यादा खिलाड़ियों की प्रतिभागिता को सुनिश्चित किया गया था पर कई खिलाड़ियो के अखिल भारतीय शतरंज संघ के नियमो के अंतर्गत समय से पंजीयन ना होने की वजह से आखिरकार मैच 880 खिलाड़ियों की प्रतिभागिता के साथ आरंभ हुआ और यकीन मानिए यह भी कोई छोटी संख्या तो नहीं है 

जी हाँ यह एक राज्य स्तरीय प्रतियोगिता है जहां एक साथ 900 खिलाड़ी तो 1500 अभिभावक मौजूद हैं !! |Photo: Amruta Mokal

इस सारे कार्यक्रम के मुख्य सूत्रधार अक्षयकल्पा के सीईओ शशिकुमार नें मैच के पहले खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलने की शपथ लेने को कहा 

अरविंद शास्त्री के लिए यह एक बड़ी सफलता है जब उनके सचिव रहते उनका राज्य एक नया इतिहास रच रहा है . |Photo: Amruta Mokal

कर्नाटका शतरंज संघ के प्रेसिडेंट श्री डीपी अनंथा इस बड़े मौके का हिस्सा बनकर बेहद खुश नजर आए |Photo: Amruta Mokal

कर्नाटका के तीनों मुख्य सितारे ग्रांड मास्टर तेज कुमार ,गिरीश कौशिक और जीए स्टेनी |Photo: Amruta Mokal

किशन गांगुली बने अक्षयकल्पा के ब्रांड अम्बेस्डर 

 

आपको सभी को याद होगा कुछ माह पहले आपने चेसबेस इडिया में कई खबरे पड़ी होंगी की राष्ट्रीय ब्लाइंड शतरंज किशन गांगुली शतरंज छोड़ सकते है क्यूंकी उन्हे ना तो सरकार से कोई सहायता प्राप्त हो रही है और ना ही नौकरी ऐसे में उनके लिए अपनी आर्थिक स्थिति को बेहतर करने के लिए खेल को छोड़ना ही एकमात्र उपाय है । ओलंपिक में दो बार पदक जीत चुके , वर्तमान एशियन और राष्ट्रीय विजेता किशन के लिए ऐसी मुश्किल की घड़ी में अक्षयकल्पा के बड़ी मदद लेकर आया और उनके सीईओ शशिकुमार नें किशन को अक्षयकल्पा का ब्रांड अम्बेस्ड़र घोषित कर दिया तो अब किशन ना सिर्फ अपने खेल पर ध्यान दे सकेंगे बल्कि अपने परिवार की मदद भी कर सकेंगे । 

किशन के जीवन के इस बड़े दिन में  कर्नाटक के शीर्ष खिलाड़ी तेजकुमार नें अपनी बधाई उन्हे दी |Photo: Amruta Mokal

जीए स्टेनी के  लिए खुद एक बड़ा दिन था क्यूंकी किशन ना सिर्फ उनके बचपन के दोस्त है बल्कि वो उनके शतरंज में प्रमुख सहयोगी भी है |Photo: Amruta Mokal
आइये देखे जब यह महत्वपूर्ण लम्हा जब किशन अक्षयकल्पा से जुड़े 

अब तक हुए 4 राउंड 

 

राउंड 5 की पेयरिंग 

2018/04/16 at 9:00 am

Bo.No.NameTypRtgPts.ResultPts.NameTypRtgNo.
129Chincholimath Halsagar183144GMThejkumar M. S.24931
22IMStany G.A.249344Nikhil R. Umesh173433
332Shiva S176144IMGirish A. Koushik24013
44Sanjay N.234644Rakshith R Umesh172835
534Thirunarayanan Sampath Kumar172944Gahan M G22815
66Ojas Kulkarni225244Namboothiri K N171237
736Keshav KothariU14171544Yashas D.22437
88Kulkarni Vinayak217944Avinash Vaidyanathan168341
943Ramachandra Bhat166144Arvind Shastry21759
1010IMHegde Ravi Gopal213944Anand Vittal T R162450

तेजकुमार का यहाँ होना ही अपने आप में बड़ी बात है और फिलहाल अपने प्रदर्शन से सभी मैच जीतकर सबसे आगे चल रहे है ! |

जीए स्टेनी को अभी तक किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा है और अभी तक हुए 4 मैच में उन्होने भी आसान सी जीत दर्ज की है 

कर्नाटक के सबसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों में से एक गिरीश कौशिक नें अब तक खिताब के लिए अपनी दावेदारी मजबूती से सामने रखी है 

कर्नाटक के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक एन संजय पूरी तन्मयता के साथ मुक़ाबला खेलते हुए 

गहन एमजी गहन सोच में डूबे हुए !

अक्षयकल्पा के स्टार किशन भी 4 अंको पर है 

इतने बड़े आयोजन की सफलता दो बाटो पर निर्भर करती है ! ऐसा ही कुछ कहना है मुख्य निर्णायक बसंता जी का !

खिलाड़ियों के लिए शानदार इंतजाम 

आर्बिटर के सही समय पर संतुलित निर्णय और इन दोनों ही पैमानो पर यह टूर्नामेंट खरा उतरता है 

जहां चाहे जो भी जज्बे में कोई कमी नहीं है चाहे कितनी भी मुश्किल हो 

आंखो में आत्मसम्मान और विश्वास दोनों भरपूर है !

तो कौन जीतेगा यह खिताब , जंग जारी है !

अक्षयकल्पा के बेहतरीन प्रयास  

 

अक्षयकल्पा के निःशुल्क दूध सबके लिए निशुल्क उपलब्ध है !! |Photo: Amruta Mokal

बिना शक्कर और किसी फ्लेवर के ये दूध सभी को पसंद है    |Photo: Amruta Mokal

इसके साथ ही दूध से बने और कई प्रोटीन से भरपूर व्यंजन खिलाड़ियों के लिए निशुल्क रखे गए है 

चेसबेस इंडिया स्टाल - ज्ञान का भंडार !

यह कोई सामान्य स्टाल नहीं जहां सिर्फ शतरंज का साहित्य या कुछ समान मिलता हो ये ज्ञान का भंडार है जहां शतरंज के विशेषज्ञ खिलाड़ी आपकी मदद करने के लिए तत्पर है

 

तो चेसबेस इंडिया के इस ज्ञान के स्टाल पर आपको इंटरनेशनल मास्टर सागर शाह ,अमृता मोकल ,अतुल दहाले ,सुप्रिया भट्ट और मैं भी नजर आऊँगा 

Oहमारा मुख्य उद्देश्य खिलाड़ियों की मदद करना है और उन्हे बेहतर करने के लिए प्रेरित करना है 

लगभग सभी बड़े छोटे खिलाड़ी चेसबेस इंडिया के इस स्टाल पर नजर आ रहे है    |Photo: Amruta Mokal

ग्रांड मास्टर श्रीनाथ नें भी अपने अनुभव नवोदित खिलाड़ियों से बांटे  |Photo: Amruta Mokal

सुप्रिया भट्ट और अमृता मोकल की वजह से अब भारतीय खिलाड़ियों के पास चेसबेस इंडिया के टी शर्ट से लेकर कई सारे सामान है |Photo: Amruta Mokal

मेरा पूरा प्रयास बच्चो को चेसबेस सॉफ्टवेयर की सही जानकारी देना है

अक्षयकल्पा के नेक कार्य !

इसके अलावा अक्षयकल्पा हर रोज अभिभावकों को जागरूक करने के उद्देश्य से वक्ताओं को यहाँ आमंत्रित करता है इसी क्रम में दूसरे दिन समाजसेविका श्रीमति वाणी मूर्ति नें अपने विचार से सबको अवगत कराया , हमारे घरो से रोज निकलने वाले कूड़े कचरे को किस तरह प्रबंधित किया जाये उन्होने सभी को यह समझाया 

काफी संख्या में अभिभावकों नें यह कार्यक्रम में भाग लिया 

Related news: