chessbase india logo
Hindi News

 

 

सायना ओपन 2017: चक्रवर्ती रेड्डी नें जीता खिताब (1/2)

by निकलेश जैन - 10 May 2017

सायना ओपन 2017 का खिताब तेलांगना के इंटरनेशनल मास्टर चक्रवर्ती रेड्डी नें अपने नाम कर लिया ,अंतिम राउंड में पंजाब के अरविंदर प्रीत सिंह को पराजित करते हुए उन्होने खिताब पर कब्जा जमाया साथ ही अपनी अंतर्राष्ट्रीय रेटिंग  में 18 अंको की बढ़त दर्ज की । छत्तीश गढ़ के धनंजय एस नें अंतिम राउंड में एयर इंडिया के वीरेंदर सिंह नेगी को पराजित करते हुए दूसरा स्थान हासिल किया । शुरुआती दौर में पिछड़ने के बाद महाराष्ट्र के श्रीनाथ रावअंतिम समय में रेल्वे के विनोद शर्मा को पराजित करते हुए तीसरा स्थान हासिल किया इन सबके बीच शतरंज का यह उत्सव अगले संस्करण की उम्मीद के साथ कई यादें समेटे सफलता पूर्वक सम्पन्न हो गया पढे लेख का पहला भाग ..

 

पूर्व एशियन विजेता तेलांगना के इंटरनेशनल मास्टर चक्रवर्ती रेड्डी नें मध्य भारत के सबसे बड़े अंतर्राष्ट्रीय रेटिंग टूर्नामेंट सायना ओपन का खिताब जीत लिया है । उन्होने कुल 5.5 लाख रुपेय पुरूष्कार राशि वाली इस प्रतियोगिता में 9 चक्रो में दो ड्रॉ और 7 जीत के साथ 8 अंक बनाते हुए खिताब पर कब्जा जमाया ।साथ ही उन्हे पंडित सत्येंद्र पाठक ट्राफी से नवाजा गया

प्रतियोगिता के शीर्ष तीन स्थान प्राप्त खिलाड़ी विजेता -चक्रवर्ती रेड्डी (बीच में ),उपविजेता धनंजय (दाए ) और तीसरे स्थान पर रहे श्रीनाथ राव (बाए )

वर्तमान के राष्ट्रीय स्कूल विजेता सायना इंटरनेशनल स्कूल में यह प्रतियोगिता सन2009 में पहली बार आयोजित की गयी थी तब इसका खिताब ग्रांड मास्टर श्री राम झा नें जीता था उसके बाद 2016 में इसे ग्रांड मास्टर स्वप्निल धोपाड़े नें अपने नाम किया ।


 

कुछ यूं हुआ आरंभ !

वर्तमान मे राष्ट्रीय स्कूल शतरंज विजेता सायना स्कूल को इस खेल में खास पहचान के पीछे है श्री संजय सत्येंद्र पाठक जो स्वर्गीय सत्येंद्र पाठक के सुपत्र है साथ ही वर्तमान में मध्य प्रदेश के लघु और सूक्ष्म उद्योग राज्य मंत्री भी है । उनके साथ कटनी जिला खेल प्रमुख पुलिस अधीक्षक शशिकांत शुक्ला नें उदघाटन समारोह की गरिमा बढ़ाई । 

श्री संजय सत्येंद्र पाठक नें सभी खिलाड़ियों को अच्छे खेल की शुभकामनाए दी 

कुछ इस अंदाज में शतरंज की चाले चलकर हुआ सायना ओपन 2017 का आगाज !

राष्ट्रीय स्कूल विजेता सायना के शतरंज खिलाड़ियों नें ही राष्ट्रगीत गाकर किया सांस्कृतिक उदघाटन 

एक आयोजक होने के नाते यह दृश्य ही मुझे हर बार प्रेरित करता है यह आयोजन को साकार रूप देने के लिए 

खास बात थी प्रतियोगिता में 5 साल के ईशांत से लेकर 83 साल के नासिर अली जी भी खेल रहे थे और यही बात इसे बेहद खास बनाती है और सफल साबित करती है क्यूंकी मकसद था भी यही 


 

फिर बिछी बिसात ,और दौड़े दिमाग - खेल का आरंभ !

सायना टूर्नामेंट मध्य भारत के प्रतिभावान खिलाड़ियों के लिए अपनी प्रतिभा साबित करने का एक माध्यम बनकर उभरा है , नन्हें नन्हें कई खिलाड़ी यहा अपने खेल जीवन की शुरुआत करते नजर आए 

टॉप सीड हेमंत शर्मा के लिए टूर्नामेंट शुरुआत से ही थोड़ा मुश्किल रहा वे वैसे तो अपराजित रहे पर 4 ड्रॉ से उन्हे रेटिंग अंको का खासा नुकसान उठाना पड़ा 

Rd. Bo. SNo   Name Rtg FED Pts. Res.
1 1 78   Yash Pyasi 1174 IND 4,0 w 1
2 1 38   Bhat Siddharth K 1550 IND 6,0 s 1
3 1 23   Saurabh Lokhande 1690 IND 6,0 w ½
4 8 37   Mathew Sunny 1560 IND 5,0 s ½
5 6 31   Sharma Suyash 1589 IND 7,0 w 1
6 4 16   Anuj Shrivatri 1874 IND 6,5 s 1
7 3 12   Negi Virender Singh 1910 IND 6,5 w ½
8 3 6   Joshi Govind Ballabh 2134 IND 7,0 s ½
9 4 18   Vaibhav Jayant Raut 1791 IND 6,0 w 1

एक आयोजक के रूप में कुछ अच्छे मैच और ये लम्हे आपको सुकून देते है और विश्वास दिलाते है की यह आयोजन एक सही निर्णय था ! पांचवे सीड धनंजय नें पांचवे राउंड में दूसरी वरीयता प्राप्त श्रीनाथ को पराजित करते हुए बढ़त बना ली  और इसके बाद धनंजय ले लिए बढ़त बरकरार रखना और श्रीनाथ के लिए वापसी करना ही एकमात्र विकल्प था । 

[Event "Syna International Open 2017"]
[Site "?"]
[Date "2017.05.03"]
[Round "5"]
[White "Dhananjay, S."]
[Black "Srinath Rao, S V."]
[Result "1-0"]
[ECO "D02"]
[WhiteElo "2167"]
[BlackElo "2324"]
[Annotator "Dhananjay "]
[PlyCount "83"]
[SourceDate "2014.03.25"]

1. Nf3 Nf6 2. d4 g6 3. Nc3 d5 4. g3 Bg7 5. Bg2 O-O 6. O-O a5 7. Re1 Nbd7 8. Ne5
c6 9. Nxd7 Bxd7 10. e4 dxe4 11. Nxe4 Nxe4 12. Bxe4 Be6 13. c3 Re8 14. Qc2 a4
15. Be3 Bd5 16. Bf4 Qd7 17. Be5 Bh6 18. c4 Be6 19. Rad1 $1 Rac8 20. Qe2 {
perfection} (20. Qxa4 b5 21. cxb5 cxb5 $11) 20... f6 21. d5 $1 cxd5 (21... fxe5
22. dxe6 Qxe6 23. Qc2 $14 Ra8 24. h4) 22. cxd5 Bg4 (22... Bf7 23. Bc3 $14) 23.
f3 fxe5 24. fxg4 $14 Qd6 25. h4 a3 26. g5 Bg7 27. h5 Qb6+ 28. Kh1 axb2 (28...
gxh5 29. Qxh5 h6 30. d6) 29. h6 Bf8 30. Rb1 Rc1 $2 31. Rbxc1 bxc1=Q 32. Rxc1 e6
33. Rf1 Bb4 (33... Be7 34. Bxg6) (33... Bc5 34. Bxg6 hxg6 35. Qc2 exd5 36. Rf6)
34. Bxg6 Rf8 35. Be4 (35. Bxh7+ $2 Kxh7 36. Qe4+ Rf5 37. dxe6 Qc6 38. Qxc6
Rxf1+ 39. Kg2 bxc6 40. Kxf1 Be7) 35... Qd4 36. Rxf8+ Bxf8 37. dxe6 Bc5 38. Kg2
Qg1+ 39. Kh3 Qe3 40. Qf1 Qf2 41. Qxf2 Bxf2 42. Bxh7+ 1-0

अरविंदर प्रीत सिंह (रेल्वे ) नें शानदार खेल दिखाया पर अंतिम राउंड में पहले टेबल पर पराजय उन्हे थोड़ा पीछे कर गयी पर निर्विवाद तौर पर वह अच्छा खेले 

[Event "SYNA 2017"]
[Site "Katni"]
[Date "2017.05.06"]
[Round "9"]
[White "Chakravarthi Reddy, M."]
[Black "Aravinder Preet Singh"]
[Result "1-0"]
[ECO "B36"]
[WhiteElo "2226"]
[BlackElo "2226"]
[PlyCount "93"]
[EventDate "2017.??.??"]
[SourceDate "2017.05.06"]

1. c4 c5 2. Nf3 Nf6 3. d4 cxd4 4. Nxd4 Nc6 5. Nc3 g6 6. e4 d6 7. Be2 Nxd4 8.
Qxd4 Bg7 9. O-O O-O 10. Bg5 h6 11. Bd2 Ng4 12. Qd3 Ne5 13. Qc2 Be6 14. b3 Nc6
15. Qd1 a6 16. Rc1 Nd4 17. Bd3 b5 18. Nd5 Bd7 19. Bc3 e6 20. Ne3 Qb6 21. Qd2
Bc6 22. Rfd1 Rfc8 23. Bb1 e5 24. Bb4 Bf8 25. Ng4 bxc4 26. Rxc4 Bb5 27. Nf6+ Kg7
28. Nd5 Qd8 29. Rxd4 exd4 30. Qxd4+ f6 31. Nb6 Rab8 32. Nxc8 Rxc8 33. h3 Qc7
34. a4 Be8 35. Bd3 Qb7 36. Bc3 Be7 37. Rb1 Bc6 38. Bd2 Re8 39. Bf4 a5 40. Rc1
Rd8 41. Be3 d5 42. e5 h5 43. Qf4 Be8 44. exf6+ Bxf6 45. Rc7+ Qxc7 46. Qxc7+ Bf7
47. Bd4 1-0

लंबे समय बाद खेल में वापस लौटे विनोद शर्मा (रेल्वे) भी आठवे राउंड तक खिताब के दावेदार थे उन्हे अंतिम राउंड में श्रीनाथ राव के हाथो हार झेलनी पड़ी । और वे 6.5 अंको के साथ 8वे स्थान पर रहे 

[Event "Syna Open Fide Rated"]
[Site "?"]
[Date "2017.05.03"]
[Round "4"]
[White "Vinod Kumar, Sharma"]
[Black "Srishti, Pandey"]
[Result "1-0"]
[ECO "B13"]
[WhiteElo "2180"]
[BlackElo "1829"]
[Annotator "Vinod Sharma"]
[PlyCount "37"]
[EventDate "2017.05.01"]
[EventType "swiss"]
[EventRounds "9"]

1. e4 d5 2. exd5 Nf6 3. c4 c6 4. d4 cxd5 5. Nc3 Nc6 6. Nf3 Bf5 ({Relevant:}
6... Bg4 7. cxd5 Nxd5 8. Qb3 Bxf3 9. gxf3 e6 10. Qxb7 Nxd4 11. Bb5+ Nxb5 12.
Qc6+ Ke7 13. Qc5+ (13. Qxb5 Qd7 14. Nxd5+ Qxd5 15. Qxd5 exd5 16. O-O (16. Be3
Ke6 17. O-O-O Bb4 18. Kb1 Rhc8 19. Rd3 Bc5 20. Rc1 Bb6 21. Rg1 Bxe3 22. Rxe3+
Kf6 23. Rg4 Rc7 24. Rf4+ Kg6 25. Rg4+ Kf6 26. Rf4+ Kg6 27. Rg4+ Kf6)) 13... Ke8
14. Qxb5+ Qd7 15. Nxd5 exd5 16. Qb3 Bd6 17. O-O Rb8 18. Qe3+ Kf8 19. Rd1 Qh3 {
0-1 (19) Riazantsev,A (2671)-Jakovenko,D (2709) Sharjah 2017}) 7. c5 e6 8. Bb5
Nd7 9. Bf4 Be7 10. O-O O-O 11. Qa4 Qc8 12. Rfe1 $146 ({Predecessor:} 12. b4 Bf6
13. Bxc6 bxc6 14. b5 Nxc5 15. dxc5 Bxc3 16. bxc6 Re8 17. Bd6 Be4 18. Rac1 Bf6
19. Ne5 h6 20. c7 Qb7 21. Qd7 Bxe5 22. Bxe5 f6 23. Bd6 d4 24. c6 Qc8 25. Rfe1
Bf5 26. f4 d3 27. Rcd1 a5 28. Rd2 Qa6 29. Rb2 Rac8 30. h3 h5 31. Kh2 a4 32. Rb8
d2 33. Rd1 Rxb8 34. cxb8=Q Rxb8 35. Bxb8 Qe2 36. Rxd2 Qe3 37. Qe8+ {1-0 (37)
Zahorsky,D (2054)-Urban,G (1985) Slovakia 2008}) 12... Bf6 (12... -- 13. Nxd5
exd5 14. Bxc6 bxc6 15. Rxe7) 13. h3 h6 14. Rac1 Rd8 15. a3 g5 16. Bd6 g4 17.
hxg4 $2 Bxg4 18. Ne5 $1 $18 Ndxe5 (18... Bxe5 19. dxe5 d4 (19... Bf5 20. Qf4 (
20. Qh4 Kh7 21. Bxc6 bxc6) 20... Kh7 21. Nxd5 Rg8 22. Ne3 Rg5 23. Rcd1 Bg6 24.
Bxc6 Qxc6 25. Be7 Rxe5 26. Ng4 Rxe1+ 27. Rxe1 Kg8 28. Qxh6 e5 29. Rxe5 Rc8 30.
Re3 Be4 31. Nf6+) 20. Bxc6 Qxc6 21. Qxd4 Bf5 22. b4 b5 23. Be7 Re8 24. Qh4 Kh7
25. Bg5 Rh8 26. Rcd1 Kg8 27. Bxh6 Bg6 28. Qg5 Nf8 29. Rd6 Qc8 30. Ne4 Rxh6 31.
Qxh6 Nh7 32. Re3 Qf8) (18... Bf5 19. Nxc6 bxc6 20. Bxc6) 19. dxe5 1-0

जम्मू काश्मीर के खिलाड़ियों की बात करे तो सुमित ग्रोवर निश्चित तौर पर सबसे ज्यादा प्रतिभावान खिलाड़ी रहे । उन्होने कई बार अपने खेल से बड़े -2 दिग्गजों को पराजित किया है । उनके राज्य का माहौल हमेशा  से  हर खेल के लिए पर्याप्त मौके नहीं देता फिर भी उनका खेल के प्रति जज्बा काबिले तारीफ है । वे 7 अंको के साथ पांचवे स्थान पर रहे । 

[Event "SYNA OPEN - 2017"]
[Site "?"]
[Date "2017.05.04"]
[Round "6.9"]
[White "Sumit Grover"]
[Black "Sudhanshu Ranjan, Bihar"]
[Result "0-1"]
[WhiteElo "1975"]
[BlackElo "1736"]
[Annotator "Doe,John"]
[PlyCount "92"]
[EventDate "2017.??.??"]

1. d4 Nf6 2. c4 e6 3. g3 d5 4. Nf3 Be7 5. Bg2 O-O 6. O-O Nbd7 7. Qc2 c6 8. Nbd2
Qc7 9. b3 b6 10. Bb2 Bb7 11. cxd5 exd5 12. Rac1 Rac8 13. Bh3 Rcd8 14. Ne5 Nxe5
15. dxe5 Ne8 16. Nf3 c5 17. e6 Bf6 18. Bxf6 gxf6 19. e7 {Wrong move, the
correct move is b4 and totally plus position for white.} Qxe7 20. Bf5 h6 21.
Qd2 Nd6 22. Bb1 Kg7 23. Nh4 Rh8 24. Rfe1 Qe6 25. Qf4 Qe5 26. f3 h5 27. Rcd1
Qxf4 28. gxf4 f5 29. Nxf5+ Nxf5 30. Bxf5 Kf6 31. Bd3 d4 32. Kf2 Bc8 33. Rg1
Rdg8 34. h4 Bf5 35. Bc4 Be6 36. Rg5 Bxc4 37. bxc4 Rxg5 38. fxg5+ Kf5 39. Rd3 f6
40. gxf6 Kxf6 41. a4 Rb8 42. f4 {Again wrong move I played here.} Kf5 43. Kf3
Re8 44. e3 Re4 45. a5 bxa5 46. Ra3 Rxe3+ 0-1

 

गोविंद वल्लभ जोशी का नाम दिल्ली समेत पूरे देश मे एक खिलाड़ी के साथ साथ एक शानदार प्रशिक्षक के तौर पर सम्मान से लिया जाता है उनके लिए भी सायना ओपन शानदार बीता । वे 7 अंको के साथ 6वे स्थान पर रहे 

 

 सायना ओपन आपको अपनी सेहत बेहतर करने का भी  मौका होता है प्राक्र्तिक सुंदरता और माहौल आपको जोशी जी जैसी फिटनेस दे सकता है !

एयर इंडिया के सबसे वरिष्ठ खिलाड़ी और प्रशिक्षक प्रतियोगिता के दौरान बुखार से जूझ रहे थे फिर भी वे शीर्ष 10 मे जगह बनाने में कामयाब रहे और 6.5 अंको के साथ 10 वे स्थान पर रहे ।अंतिम राउंड में उन्हे धनंजय से हार का सामना करना पड़ा । खैर उनका खेल के प्रति जज्बा देखने लायक रहा । 

 [Event "Syna International Open 2017"]
[Site "Katni"]
[Date "2017.05.06"]
[Round "9"]
[White "Dhananjay, S."]
[Black "V S, Negi"]
[Result "1-0"]
[ECO "A04"]
[WhiteElo "2167"]
[BlackElo "2167"]
[PlyCount "73"]
[EventDate "2017.??.??"]

1. Nf3 f5 2. g3 e6 3. Bg2 Nf6 4. O-O d5 5. d3 Nc6 6. b3 Bd6 7. Bb2 O-O 8. c4
Ne7 9. Nc3 c6 10. Re1 f4 11. Qd2 Ng6 12. e4 fxe3 13. Qxe3 Bd7 14. d4 b6 15. Qd3
Ng4 16. Re2 Qf6 17. Rae1 Rae8 18. Qd2 Nh6 19. Ne5 Bxe5 20. dxe5 Qe7 21. cxd5
cxd5 22. Nb1 Qf7 23. Ba3 Ne7 24. Nc3 Bc6 25. Qd3 Nhf5 26. Rd2 Rc8 27. Nb5 Bxb5
28. Qxb5 Rfd8 29. Rc1 Rxc1+ 30. Bxc1 Rc8 31. Ba3 Nc6 32. Rxd5 Ncd4 33. Qd7 Qxd7
34. Rxd7 Rc2 35. g4 Ne2+ 36. Kf1 Nfd4 37. Rd8+ 1-0

 

एक और खिलाड़ी जिसने वाकई प्रभावित किया वो थी सृष्टि पांडे । उन्होने 4 मई को हुए ब्लिट्ज़ स्पर्धा में 6.5/7 अंक बनाते हुए खिताब अपने नाम किया । साथ ही मुख्य प्रतियोगिता में 6.5/9 अंक 11 वे स्थान पर रही ।


 

मेजबान सायना जहां शतरंज सिर्फ एक खेल नहीं 

सायना स्कूल की शीर्षा तिवारी पहली बार कोई बड़ा मैच खेल रही थी उनके लिए लिखना एक रोचक अनुभव था 

सायना के कक्षा 3 के छात्र अरिंदम के लिए शतरंज खेलना और खुश रहने की आदत उन्हे काफी आगे ले जाएगी  

सायना की विश्व स्कूल चैंपियनशिप खेल चुकी ओमि जैन अब प्रोफेशनल खिलाड़ी बनने की तैयारी में है 

कक्षा 3 के अनुज्ञ शतरंज में आगे बढ़ना चाहते है और मेहनत जारी है 

नेशनल स्कूल खेल चुके युव जैन के लिए शतरंज खेल खेलना सबसे पसंदीदा कार्य है 

विश्व स्कूल स्पर्धा खेल चुके रुद्राक्ष अब आगे बढ्ने की तैयारी में है 

मदुरा अवस्थी के लिए यह उनके खेल जीवन की शुरुआत थी और उन्होने इसका भरपूर आनंद उठाया 

राउंड एक में सायना स्कूल के आर्यन अग्रवाल को टेबल नंबर 3 पर विजेता चक्रवर्ती रेड्डी से खेलने का मौका मिला 

तो प्रखर बजाज टेबल दो पर श्रीनाथ राव से टक्कर लेते नजर आए 

नन्ही कृतिका के लिए पहला अनुभव भविष्य के लिए काफी कुछ दे गया 

 

....दूसरा भाग जल्द ही !

 

 

 

आपका दोस्त

निकलेश जैन !


Sharing statistics:


Share on: