chessbase india logo
Hindi News

 

 

4 स्वर्ण जीत भारत बना एशियन शतरंज का सिरमौर

by निकलेश जैन - 09 April 2017

ताशकंद में चल रहे एशियन यूथ शतरंज चैंपियनशिप में क्लासिकल वर्ग के परिणामों में भारत नें अपनी महारत साबित करते हुए मेजबान उज्बेकिस्तान को पीछे छोड़ते हुए सबसे ज्यादा  12 पदक झटक लिए । भारत को 4 स्वर्ण ,5 रजत और 3 कांस्य पदक मिले तो मेजबान 3 स्वर्ण ,4 रजत और 3 कांस्य के साथ दूसरे स्थान पर रहा । अंतिम राउंड में जहां कुछ खिलाड़ी पदक से दूर गए तो कई नें अंतिम समय में अपनी जगह बना ली । अर्जुन ,आकांक्षा ,वार्षिनी और जीशिथा के रूप में भारत को चार नए एशियन विजेता मिले तो इलमपारथी  ,सविता,साई,रक्षिता और ज्योत्सना उपविजेता के ताज के हकदार बने । कांस्य का रंग भी देश को उतना ही गर्व देता है ,दिव्या ,रोहित और तन्मय नें कांस्य जीत कर देश को गौरान्वित किया । पढे पूरा लेख ..

ताशकंद । (निकलेश जैन ) । एशियन यूथ शतरंज स्पर्धा में अंततः भारत नें मुख्य क्लासिकल मुकाबलों में अपनी महारत सिद्ध करते हुए 4 स्वर्ण ,5 रजत और 3 कांस्य पदक समेत कुल 12 पदक झटकते हुए पहला स्थान हासिल किया । मेजबान उज्बेकिस्तान 3 स्वर्ण ,4 रजत और 4 कांस्य पदक मिलाकर 10 पदको के साथ दूसरे स्थान पर रहा । भारत के नजरिए से देखे तो अंतिम दिन भारत के लिए अच्छा साबित हुआ और भारतीय खिलाड़ियों नें दबाव अपने उपर नहीं आने दिया ।

 

सबसे पहले मिलते है स्वर्ण पदक विजेताओं से 

भारत के लिए अंडर अंडर 10 बालिका वर्ग में वार्षिनी साहिथी नें स्वर्ण पदक झटका उन्होने 8.5/9 अंक बनाए । भारत की ओर से वह बालिका वर्ग में सर्वधिक अंक बनाने वाली खिलाड़ी रही 

अंडर 14 बालक वर्ग में अर्जुन एरगासी की जीत खास मायने रखती है उज़्बेक प्रतिभा नोदिरबेक को ड्रॉ पर रोकने के बाद उन्होने कोई भी गलती नहीं की और अंत मे बेहतर टाईब्रेक के आधार पर अर्जुन विजेता बने । अर्जुन 8.5/9 अंक बनाकर भारत के बालक वर्ग में टॉप स्कोरर रहे । 

तो बालिका वर्ग में जीशिथा डी नें 8 वे राउंड की हार से उबरते हुए नौवा मैच ड्रॉ खेलकर 7.5 अंक बनाकर स्वर्ण पदक पर कब्जा बरकरार रखा !

तो जोरदार वापसी करते हुए अंतिम तीन राउंड में वापसी करते हुए आकांक्षा होगवान नें अंडर 18 बालिका वर्ग में स्वर्ण पदक जीतते हुए भारत को चौथा स्वर्ण दिलाया उन्होने कुल 7.5 अंक बनाकर अंततः अपनी श्रेष्ठता सिद्ध की 

एक नजर अब रजत पदक विजेताओं पर 

हालांकि भारत को अंडर 8 बालक वर्ग से इलमपारथी और अंडर 12 बालिका वर्ग में दिव्या देशमुख के अंतिम राउंड में हारने का दुख जरूर रहेगा पूरा टूर्नामेंट में शानदार खेलने वाले ये खिलाड़ी अंतिम दो राउंड में स्वर्ण से चूक गए । इलमपारथी नें रजत तो दिव्या को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा ।

अन्य रजत पदक विजेताओं में अंडर 10 बालिका वर्ग में सविता श्री नें अंतिम चक्रो में शानदार खेल दिखाया 7अंक बनाकर वह दूसरे स्थान पर रही 

अंडर 12 बालिका वर्ग में रक्षिता रवि नें भी रजत पदक पर कब्जा जमाया 7अंक बनाकर वह दूसरे स्थान पर रही 

अंडर 14 बालिका वर्ग में ज्योत्सना एल नें भी 7अंक बनाकर दूसरे स्थान पर और रजत पदक पर कब्जा जमाया  

और आश्चर्यजनक तौर पर अंत में अंडर 18 बालक वर्ग में साई विश्वाससामने आए 6.5 अंको के साथ उन्होने रजत जीता और दरअसल उनके टाईब्रेक अंको नें उन्हे यह बढ़त दिलाई !

कांस्य ही सही पर पदक तो पदक है !

 

कांस्य पदक विजेताओं में दिव्या सबसे चौंकाने वाला नाम रही वह पूरे समय स्वर्ण की दावेदार थी पर अंतिम राउंड में अपनी बढ़त खो बैठी खैर फिर भी उन्होने देश के खाते में एक पदक जोड़कर ही दम लिया 

अंडर 10 बालक वर्ग में तन्मय जैन अकेले भारतीय चुनोती थे और उन्होने कांस्य जीतकर इसे साबित भी किया 

अंडर 12 बालक वर्ग में रोहित कृष्णा भी कांस्य पदक विजेताओं में शामिल रहे 

कुल संभव 36 पदको में से भारत नें 12 तो मेजबान उज्बेकिस्तान ने 10 पदक मिलाकर ही कुल 22 पदक जीत लिए । पदक तालिका नें 4 स्वर्ण के साथ भारत पहले , 3 स्वर्ण के साथ उज्बेकिस्तान  दूसरे ,2 स्वर्ण और 2 रजत के साथ ईरान तीसरे ,स्थान पर रहा । कजखस्तान नें 2 स्वर्ण और 1 जीतेते हुए चौंथा स्थान हासिल किया । वही सिर्फ 1 स्वर्ण जीतकर भी वियतनाम पांचवे स्थान पर रहा ।इसके अलावा मंगोलिया नें 1 रजत पदक ,तुर्कमेनिस्तान नें 3 कांस्य पदक और सीन 2 कांस्य पदक जीत सका ।

भारतीय खिलाड़ियों की निर्णायक स्थिति 

IND

SNo   Name Rtg FED 1 2 3 4 5 6 7 8 9 Pts. Rk. Group
1   Ilamparthi A R 1765 IND 1 1 1 ½ ½ 1 1 1 0 7,0 2 AYCC 2017 U8O
6   Priansh Das 1342 IND 1 0 1 1 1 0 0 1 1 6,0 5 AYCC 2017 U8O
9   Sriansh Das 1258 IND 1 0 0 1 1 ½ 1 0 0 4,5 14 AYCC 2017 U8O
6 WCM Shefali A N 1165 IND 1 1 ½ 1 0 1 0 ½ ½ 5,5 9 AYYC 2017 U8G
7 WCM Suhaani Lohia 1125 IND 0 ½ 1 0 1 0 1 0 ½ 4,0 23 AYYC 2017 U8G
14   Saineha R M 1008 IND 1 1 0 0 ½ 1 0 0 1 4,5 16 AYYC 2017 U8G
2 CM Dev Shah 1857 IND 0 1 1 0 ½ 1 1 1 0 5,5 9 AYCC 2017 U10O
7   Tanmay Jain 1596 IND 1 1 1 1 0 1 ½ ½ ½ 6,5 3 AYCC 2017 U10O
1   Savitha Shri B 1636 IND 0 1 1 1 1 ½ 1 1 ½ 7,0 2 AYCC 2017 U10G
4   Sahithi Varshini M 1368 IND 1 1 1 1 1 ½ 1 1 1 8,5 1 AYCC 2017 U10G
14   Patel Riddhi R 1285 IND ½ ½ 1 0 0 1 ½ 0 1 4,5 19 AYCC 2017 U10G
4   Manish Anto Cristiano F 1947 IND 1 1 1 0 ½ 0 1 ½ 1 6,0 5 AYCC 2017 U12O
7   Rohith Krishna S 1934 IND 1 1 0 1 ½ 1 ½ 1 ½ 6,5 3 AYCC 2017 U12O
9   Pranesh M 1792 IND 1 1 0 1 0 1 ½ 1 0 5,5 7 AYCC 2017 U12O
1 WFM Divya Deshmukh 2012 IND 1 1 1 1 0 1 1 0 1 7,0 3 AYCC 2017 U12G
2   Rakshitta Ravi 1923 IND 1 ½ 1 1 1 0 1 1 ½ 7,0 2 AYCC 2017 U12G
7 WCM Dhyana Patel 1695 IND 1 0 1 0 1 1 0 1 0 5,0 11 AYCC 2017 U12G
8   Bhagyashree Patil 1658 IND 1 ½ 1 ½ 1 0 0 0 1 5,0 12 AYCC 2017 U12G
15 WCM Chinnam Vyshnavi 1450 IND 1 1 0 1 ½ ½ 1 0 0 5,0 13 AYCC 2017 U12G
17   Vishwa Vasnawala 1354 IND 0 1 0 ½ 1 1 0 ½ ½ 4,5 19 AYCC 2017 U12G
21   Kriti Mayur Patel 1291 IND 0 1 1 1 0 0 0 1 1 5,0 9 AYCC 2017 U12G
2 CM Erigaisi Arjun 2300 IND 1 1 1 1 ½ 1 1 1 1 8,5 1 AYCC 2017 U14O
4   Jishitha D 1859 IND 1 1 1 1 1 1 1 0 ½ 7,5 1 AYCC 2017 U14G
5   Jyothsna L 1848 IND 1 1 ½ 0 1 ½ 1 1 1 7,0 2 AYCC 2017 U14G
7 WFM Bommini Mounika Akshaya 1753 IND 1 0 ½ 1 1 1 0 0 1 5,5 9 AYCC 2017 U14G
4 FM Mitrabha Guha 2348 IND 1 0 0 1 1 0 1 0 1 5,0 8 AYCC 2017 U16O
2   Toshali V 1997 IND 0 1 1 1 1 0 ½ 1 0 5,5 5 AYCC 2017 U16G
7 WFM Mishra Anwesha 1872 IND 1 ½ ½ ½ 1 ½ ½ ½ ½ 5,5 8 AYCC 2017 U16G
8   Sai Vishwesh.C 2274 IND 1 1 0 ½ 1 0 1 1 1 6,5 2 AYCC 2017 U18O
11   Kaustuv Kundu 2195 IND 1 0 1 ½ 1 1 ½ ½ 0 5,5 7 AYCC 2017 U18O
12   Pranavananda V 2169 IND 1 0 1 0 1 1 0 0 0 4,0 16 AYCC 2017 U18O
2 WIM Aakanksha Hagawane 2272 IND 1 1 ½ ½ 1 ½ 1 1 1 7,5 1 AYCC 2017 U18G
5 WIM Ivana Maria Furtado 2111 IND 1 1 ½ 1 0 1 0 1 ½ 6,0 5 AYCC 2017 U18G
7 WCM Chandreyee Hajra 1919 IND 1 1 0 0 1 1 0 1 0 5,0 10 AYCC 2017 U18G
9 WCM Ananya Suresh 1900 IND 1 0 1 1 0 1 1 0 0 5,0 9 AYCC 2017 U18G

 

 सभी तस्वीरे श्री गोपकुमार जी के द्वारा ही हमें प्राप्त हुई मुख्य निर्णायक के तौर पर उनकी कामयाबी भी किसी स्वर्ण पदक से कम नहीं है । भारतीय शतरंज में उनका योगदान अतुलनीय है ! धन्यवाद गोपा जी !!

 

निकलेश जैन


Sharing statistics:


Share on: