chessbase india logo
Hindi News

 

 

एशियन यूथ शतरंज : भारत का शानदार प्रदर्शन जारी

07/04/2017 -

भारत की जीशिथा डी  के 7 में से 7 अंक के शानदार प्रदर्शन के साथ एशियन यूथ स्पर्धा में भारतीय खिलाड़ियों नें बीते कुछ राउंड में अपनी पकड़ और मजबूत कर ली है । देश के नन्हें -नन्हें बच्चो का जज्बा आपमें भी जोश भर देगा ये जीतने के शौकीन तो हैं ही हारने के बाद भी वापसी की राह पकड़ना बखूभी जानते है । सात राउंड के बाद भारत के इलमसारथी , वार्षिनी साहिथि,दिव्या देशमुख ,अर्जुन एरगासी ,जीशिथा डी ,नजर स्वर्ण पदक पर है साथ ही तन्मय जैन ,सविता श्री ,रक्षिता रवि ,आकांक्षा होगवान ,रोहित कृष्ण ,ज्योत्सना एल ,वी तोशाली जैसे खिलाड़ियों से भी पदक की उम्मीद कायम है । कुल मिलाकर ताशकंद में भारत के खिलाड़ी आक्रामक शतरंज का प्रदर्शन कर रहे है ,उम्मीद है अंतिम दो राउंड हमारे ही पक्ष में होंगे !!पढे यह लेख 

एशियन यूथ शतरंज : सात भारतीय खिलाड़ी बढ़त पर

05/04/2017 -

ताशकंद से भारत का पुराना नाता है और राजनैतिक तौर पर ताशकंद से भारत के संबंध हमेशा अच्छे रहे है कभी रूस का हिस्सा रहे इस देश में शतरंज का हमेशा से ही एक खास स्थान रहा है और अब यह लगातार एशिया में अपनी पकड़ मजबूत करता नजर आ रहा है । शानदार इंतज़ामों के बीच एशियन यूथ चैंपियनशिप में भारतीय खिलाड़ियों नें अपने शानदार खेल से अधिकतर वर्गो में अपनी उपस्थिती का एहसास सभी को करा दिया है । चार राउंड के बाद भारत के खिलाड़ी अधिकतर वर्गो में बढ़त पर है और अगर आने वाले दो राउंड में यह बढ़त हम कायम रख पाये तो निश्चित तौर पर हम ढेरो पदक की आशा इन नन्हें बच्चो से कर सकते है ! पढे यह लेख 

एशियन यूथ रैपिड : भारत को दो स्वर्ण समेत 5 पदक

02/04/2017 -

ताशकंद ,उजबेकिस्तान में एशियन यूथ चैंपियनशिप के पहले दिन हुए रैपिड मुक़ाबले में भारत एशिया में 2 स्वर्ण पदक ,2 रजत पदक और 1 कांस्य पदक के साथ दूसरे स्थान पर रहा । मेजबान उजबेकिस्तान नें 3 स्वर्ण ,4 रजत और 3 कांस्य पदको के साथ पदक तालिका में पहला स्थान हासिल किया । कजाकस्तान 2 स्वर्ण ,1 रजत और 1 कांस्य के साथ तीसरे स्थान पर रहा । भारत के लिए अंडर 8 बालक वर्ग में इरमपारथी एआर नें और अंडर 14 बालक वर्ग में अर्जुन इरीगासी नें सोना जीता , सविता श्री अंडर 10 बालिका और दिव्या देशमुख नें अंडर 12 बालिका वर्ग में रजत पदक अपने नाम किया । अंडर 12 बालिका वर्ग में ही रक्षिता रवि नें कांस्य पदक हासिल किया । सोचने वाली बात है की कुछ वर्ष पूर्व भारत एशियन से लेकर विश्व स्पर्धा में भी शीर्ष पर होता था हमारे खिलाड़ियों की प्रतिभा किसी से छिपी नहीं है पर अंडर 12 और 14 वर्ग के सबसे बड़े खिलाड़ियों की मौजूदगी के बाद भी एशियन या विश्व स्पर्धा में उनका नजर ना आना हमारी कुछ न कुछ कमी की ओर इशारा करता है 

शारजाह :अधिबन उपविजेता ,हरिका सर्वश्रेष्ठ महिला

01/04/2017 -

दुनिया के सबसे बड़े और आलीशान शतरंज क्लब में आयोजित हुए 60000 अमेरिकी डॉलर की प्रथम शारजाह मास्टर्स अनगिनत खूबसूरत लम्हे लिए अंततः सम्पन्न हो गया । भारत के अधिबन और सेथुरमन अंको के आधार पर सयुंक्त पहले स्थान पर रहे तो टाईब्रेक में उन्हे दूसरा और पांचवा स्थान हासिल हुआ । हरिका सर्वश्रेष्ठ महिला खिलाड़ी रही । प्रग्गानंधा ,निहाल ,आदित्य मित्तल ,रौनक साधवानी और मेनडोनका लियुक जैसे नन्हें मुंन्हों नें दुनिया को भविष्य के भारत से परिचय कराया । साथ ही आपको यह भी मानना ही होगा की इस समय अगर दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ओपन टूर्नामेंट अगर कहीं होते है तो वो अरब देश ही है । जिस अंदाज और इंतजाम के बीच यह टूर्नामेंट आयोजित हो रहे है कहना होगा की वह समय दूर नहीं जब यूएई से शानदार खिलाड़ी सामने आने लगेंगे और रही भारत की बात तो भारतीय खिलाड़ी भारत से ज्यादा विदेशो में नजर आने लगे है । पढे यह विस्तृत लेख 

फीडे प्रेसिडेंट का इस्तीफा ? सच है या साजिश ??

30/03/2017 -

विश्व शतरंज जगत में पिछले तीन दिनो से घमासान मचा हुआ है कारण है फीडे प्रेसिडेंट किरसन इल्यूम्ज़्हिनोव के इस्तीफे की खबरे जो कहीं और से नहीं बल्कि खुद फीडे ( विश्व शतरंज संघ ) की अधिकृत वैबसाइट पर जारी की गयी । जैसे ही 26 मार्च को एथेंस में फीडे की मीटिंग खत्म हुई  अगले दिन 27 मार्च को दोपहर को 12 बजकर 34 मिनट पर  फीडे प्रेसिडेंट किरसन इल्यूम्ज़्हिनोव के इस्तीफे की खबर के साथ अप्रैल में इस पर बात करने के लिए प्रेसीडेंटल बोर्ड की आपात मीटिंग बुलाने की बात प्रकाशित हुई । थोड़ी ही देर के अंदर बात आग की तरह दुनिया में फैल गयी तभी अचानक थोड़ी ही देर में रूस चेस की वैबसाइट पर किरसन नें अपने इस्तीफे की खबरों को जूठा करार देते हुए इसे अमेरिकन चेस फेडरेसन की साजिश करार दे दिया । तब से अब तक लगातार इस मुद्दे पर लगतार अलग अलग अधिकारियों के पत्र और किरसन के जबाब सामने आ रहे जो भी इस उठापटक में खेल का नुकसान ना हो यही उम्मीद है 

शारजाह R6 : नारायण श्रीनाथ भारत के 46वें ग्रांड मास्टर

29/03/2017 -

शारजाह मास्टर्स 2017 का छठा राउंड भारत के लिए खुशखबरी लाया है भारत के श्रीनाथ नारायण नें कल ग्रांड मास्टर डेविड एंटोन को पराजित करते हुए ना सिर्फ 2500 रेटिंग का आंकड़ा छुआ बल्कि अपने बचपन का सपना पूरा करते हुए भारत के 46वॉ ग्रांड मास्टर होने का गौरव भी हासिल किया । पूर्व अंडर 12 विश्व चैम्पियन श्रीनाथ के खेल जीवन के इस महत्वपूर्ण लम्हे में हम उन्हे शुभकामनाए देते है । बात करे बाकी खिलाड़ियों की तो आज भी अधिबन और सेथुरमन नें अपने मैच जीतकर खिताब पर भारतीय दावेदारी बनाए रखी है हरिका नें भी ड्रॉ खेलते हुए महिला वर्ग में शीर्ष स्थान बनाए रखा है । खैर आज पहली टेबल पर अधिबन को चीनी चुनोती हाऊ वांग से पार पाना होगा । पढे यह लेख 

शारजाह R 4&5 :अधिबन बढ़त पर :सेथुरमन की वापसी

28/03/2017 -

भारतीय जूनियर खिलाड़ियों की धमाचौकड़ी के बीच शारजाह मास्टर्स में भारत के ग्रांड मास्टर भास्करन अधिबन नें 5 राउंड के बाद सयुंक्त बढ़त कायम रखी है ,4 जीत और 1 ड्रॉ के साथ अधिबन 4.5 अंको पर है । एशियन चैम्पियन सेथुरमन नें लगातार दूसरी जीत दर्ज करते हुए अपनी वापसी कर ली है । दुनिया भी अब यह मानने लगी है की भारतीय नन्हें मुन्हे खिलाड़ी सिर्फ दिखने में बच्चे है खेल में उनसे मुक़ाबला करना किसी भी के लिए आसान नहीं है । महिलाओं में हरिका भी आज 4 अंको में पहुँच गयी पर सबसे ज्यादा चौंकाते हुए सिरजा शेषद्रि नें लगातार दूसरी बार 2650+के ग्रांड मास्टर को बराबरी पर रोक दिया । देखना होगा की अगले दो राउंड में किसका पडला भारी पड़ता है । कौन आगे निकलता है और कौन पीछे छूट जाता है । 

याक़ूब !! क्या खूब !! अब दिल्ली दूर नहीं !!

27/03/2017 -

याक़ूब ओगार्ड ! यह नाम है विश्व शतरंज के सबसे दिग्गज शतरंज लेखक ,प्रशिक्षक और साथ ही साथ खेल की गहरी समझ रखने वाले ऐसे इंसान का जिससे हर कोई जुड़ना ,सीखना और मिलना चाहता है । आपसे ये बाते कहने के पीछे उद्देश्य आपको ये बताना है की याक़ूब इस समय भारत के दौरे पर है और अगर आप उनसे मिलने का मौका खो रहे है तो यह आपका बड़ा नुकसान होगा । भारत के सभी महानगरो में उनकी यात्रा के दौरान वो शीर्ष ग्रांड मास्टर ,इंटरनेशनल मास्टरों को भी ट्रेनिंग देते नजर आएंगे साथ ही साथ बच्चो को भी शतरंज के गुर सिखाएँगे वो मुंबई में दो दिन बिताकर अहमदाबाद के लिए निकल चुके है और जल्द ही दिल्ली में होंगे अपनी भी जगह पक्की करने के पढे यह लेख साथ ही पढे कैसा लगे याक़ूब को भारत के स्वादिष्ट व्यंजन !!

शारजाह मास्टर्स: : R-2&3 : अधिबन सयुंक्त बढ़त पर

26/03/2017 -

शारजाह मास्टर्स में भारत के भास्करन अधिबन नें लगतार तीसरा मैच जीत कर बढ़त बना ली है । प्रग्गानंधा ग्रांड मास्टर नोर्म की जमीन तैयार कर चुके है , सेथुरमन जीत का स्वाद लेते -लेते चूक गए और बाजी हार गए ,रोहित थोड़ा लय से भटक गए है तो निहाल अब भी काफी दम रखते है ,विष्णु का प्रदर्शन और बेहतर की और बढ़ रहा है ,पदमिनी और भक्ति और राकेश को अपने पहले बड़े मैच और जीत का इंतजार है ,लक्ष्मण ,दीपन ,श्रीनाथ और रत्नाकरण नें सधी हुई शुरुआत की है । कुल मिलाकर भारतीय खिलाड़ी शारजाह में अपना पूरा दमखम लगा रहे है और शानदार इंतज़ामों के बीच सबसे बड़ा खिलाड़ी दल लिए हुए मेहमान भारत आपको टूर्नामेंट हाल के अंदर मेजबान नजर आता है । पहले तीन राउंड में दो वर्गीय पेयरिंग से खेला गया टूर्नामेंट में अब आने वाला एक राउंड शीर्ष पर थोड़ा आसान होगा 

शारजाह मास्टर्स:भारतीय खिलाड़ियों की अच्छी शुरुआत

24/03/2017 -

शारजाह मे कल से शुरू हुए शारजाह मास्टर्स मे भारत के लगभग सभी प्रमुख खिलाड़ियों नें जीत दर्ज करते हुए शुभारंभ किया । भारत के बाहर भी आपको यह टूर्नामेंट भारत मे होने का भ्रम देता है क्यूंकी मेजबान यूएई के 28 खिलाड़ियों की तुलना में भारत 86 खिलाड़ी के साथ सबसे बड़ा दल है । बात करे पहले दिन की तो भारत के भविष्य के दो सितारे पूरी चमक बिखेरते नजर आए। जी हाँ 12 वर्षीय और ग्रांड मास्टर बनने की ओर तेजी से बढ़ रहे प्रग्गानंधा नें 2700 के खिलाड़ी का  पहली बार सामना करते हुए ड्रॉ पर रोक दिया तो निहाल ने 2632 रेटिंग के जॉर्जिया के ब्लुएबौम मथियस को पराजित करते हुए जोरदार शुरुआत की । शानदार इंतज़ामों के साथ शारजाह मास्टर्स आपको प्रभावित करता नजर आता है । खैर पहले दिन के बाद तकरीबन 40 खिलाड़ियों का नाम दूसरे राउंड से हटाया गया ,आखिर क्यूँ ?.. पढे यह लेख .. 

सीखे बॉबी फिशर से : मिडिल और एंडगेम की तकनीक

23/03/2017 -

बॉबी फिशर के खेल का हर पहलू आपके खेल को बेहतर बनाने में बेहद मददगार भूमिका निभा सकता है । अगर बात करे उनके खेल में उनकी टेक्टिक्स या फिर बात करे एंडगेम की ,फिशर के खेल के यो दोनों हिस्से उस दौर के खिलाड़ियों की तुलना में काफी मजबूत थे । फिशर के खेल के टेक्टिक्स के हिस्से को इंटरनेशनल मास्टर ओलिवर रिच और एंडगेम का हिस्सा वर्तमान समय के एंडगेम के दुनिया के सबसे बड़े विशेषज्ञ कर्स्टेन मुलर नें विडियो ट्रेनिंग के जरिये समझाया है । चेसबेस के मास्टर क्लास वॉल्यूम एक में बॉबी फिशर के खेल के विभिन्न पहलुओं से अवगत करता पढे यह लेख ..

आनंद सर की पाठशाला :तीसरा दिन :मिडिल गेम !

21/03/2017 -

शुरुआत अच्छी होने के बाद भी जीवन में जो लोग समय को या स्थिति को नहीं समझ पाते वो लड़खड़ा जाते है,शतरंज मैं भी ऐसा होना बेहद सामान्य घटना है ,कई बार शानदार ओपेनिंग खेल कर भी समय के दबाव में या स्थिति के गलत आकलन से मिडिल गेम में गलतियाँ कर मैच खो देना अधिकतर देखा गया है ऐसे में आनंद नें प्रशिक्षण शिविर के तीसरे दिन बच्चो को मिडिल गेम की बारीकियाँ सिखाई उन्होने अपनी समझ बेहतर करने ,स्थिति का बेहतर आकलन करने ,अपने समय को नियंत्रित करने के कई शानदार सुझाव बच्चो को दिये । इसके साथ ही तीन दिवसीय यह शानदार आयोजन सफलता पूर्वक सम्पन्न हो गया । आनंद का एक प्रशिक्षक के तौर पर देखना अपने आप में एक इतिहासिक बात है और इस कार्यक्रम से जुड़ कर चेसबेस इंडिया खुद को सम्मानित महसूस कर रहा है ..

एचडी बैंक इंटरनेशनल : भारत के विष्णु सयुंक्त दूसरे स्थान पर

20/03/2017 -

भारत के दूसरे पंक्ति के ग्रांड मास्टर भी अब धीरे धीरे अपनी जगह अंतर्राष्ट्रीय जगत में बना रहे है और यह भारत के लिए अच्छे संकेत है । वियतनाम में आज सम्पन्न हुए एशिया के सबसे बड़े ग्रांड मास्टर टूर्नामेंट में से एक एचडी बैंक टूर्नामेंट में भारत के ग्रांड मास्टर विष्णु प्रसन्ना शीर्ष 10 में जगह बनाने वाले अकले भारतीय रहे वे 9 मैच के दौरान अक भी मुक़ाबला नहीं हारे कुल 4 जीत और 5 ड्रॉ के साथ 6.5 अंको के साथ सयुंक्त दूसरे स्थान पर रहे । प्रतियोगिता के विजेता वियतमान के नंबर एक खिलाड़ी और विश्व नंबर 30 ले कूयांग लिएम रहे उन्होने कुल 7 अंक बनाए । 17वी वरीयता प्राप्त विष्णु नें अंतिम राउंड में चीन के लू शंगले को पराजित कर शानदार प्रदर्शन किया।आपको बता दे की अभी अभी सम्पन्न हुई भारत चीन सीरीज में चीन ने भारत को 3-1 से पराजित किया था और उसमें लू नें बड़ी भूमिका निभाई थी 

आनंद सर की पाठशाला : दूसरा दिन :ओपनिंग की डगर

19/03/2017 -

कहते है किसी भी कार्य की शुरुआत अगर अच्छी हो तो आप आधी सफलता तो पा ही लेते है , ठीक इसी तरह शतरंज में भी अगर आप अच्छी ओपेनिंग करने में कामयाब रहते है तो आप एक अच्छे खिलाड़ी बनने की तरफ आगे बढ़ जाते है खैर जब पाँच बार के विश्व चैम्पियन आपको ओपेंनिंग की तैयारी कैसे करना है यह सिखाये तो समझ लीजिये उनका कहा हर एक शब्द आपके दिमाग में जाकर जैसे हमेशा के लिए अमिट हो जाता है । चेन्नई में चल रही सर आनंद की क्लास में आज ओपेनिंग का दिन था , आनंद नें ना सिर्फ यह बताया की कैसे आप कैसे ओपेनिंग की तैयारी करे बल्कि बच्चो के सवालो के भी जबाब दिये ,उन्होने कंप्यूटर के इस्तेमाल को आज की जरूरत बताया तो यह भी बताया की विरोधी के गलती करने पर आपको क्या करना चाहिए । देखे आनंद सर की क्लास में क्या रहा दूसरे दिन का नजारा !

चेन्नई में आनंद की पाठशाला : पहला दिन : एंडगेम

17/03/2017 -

लोग कहते है आनंद शतरंज ना चुनते तो आज यह देश शतरंज की महाशक्ति ना होता दरअसल सच है भी यही । आनंद के द्वारा चेन्नई में चल रहा प्रशिक्षण शिविर  सिर्फ पहली बार हो रहा कोई आयोजन नहीं है यह भारतीय शतरंज जगत के लिए एक नए सपने की शुरुआत है जिसमें आनंद नें रंग भरने की शुरुआत कर भी दी है । पाँच बार के विश्व चैम्पियन का खेल तो देश नें बहुत देखा अब उन्हे सिखाते देखना उनके विचारो को समझना यह अवसर देश के हिस्से पहली बार आया । आनंद के इस नए रोल के कई मायने है ,वह निश्चित तौर पर अब अपने खेल जीवन को जारी रखने के साथ साथ भविष्य की जिम्मेदारियाँ का संकेत भी दे रहे है ।  बात करे पहले दिन की तो यह पूरी तरह एंडगेम को समर्पित रहा , पढे यह रिपोर्ट